बड़ी खबर

16 मार्च की 10 बड़ी खबरें

1. भाजपा और NDA के लिए दक्षिण जीतना जरूरी, मिशन 400 पार के लिए मोदी ने संभाला मोर्चा

लोकसभा चुनावों (Lok Sabha elections) में चार सौ पार के बड़े मिशन के लिए भाजपा व राजग (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) (BJP and NDA) को ‘दक्षिण का द्वार’ जीतना बेहद जरूरी है। बीते दो लोकसभा चुनावों में हिंदी पट्टी से लेकर पूर्वोत्तर भारत तक यानी देश के मध्य भाग से लेकर उत्तर, पूर्व और पश्चिम में मोदी मैजिक के बाद भाजपा के लिए अब दक्षिण (दक्षिण) बड़ा मिशन है। पार्टी को साबित करना है कि मोदी की गारंटी में दक्षिण भी पूरी तरह शामिल है। इसका मोर्चा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) संभाले हुए हैं। लोकसभा चुनावों की घोषणा से एक दिन पहले ही मोदी ने दक्षिण भारत में डेरा डाल दिया है। प्रधानमंत्री ने शुक्रवार को दक्षिण के तीन राज्यों केरल, तमिलनाडु व तेलंगाना का दौरा किया। वह 19 मार्च तक दक्षिण के सभी राज्यों केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और कर्नाटक में कई कार्यक्रम करेंगे। इस बीच 16 मार्च की शाम को दिल्ली में चुनाव आयोग लोकसभा चुनावों के विस्तृत कार्यक्रम की घोषणा करेगा।

2. PM मोदी ने शुरू किया ‘मेरा भारत, मेरा परिवार’ कैंपेन, सोशल मीडिया पर साझा किया वीडियो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने मेरा भारत, मेरा परिवार (‘Mera Bharat, Mera Parivar’) कैंपेन (Campaign) की शुरुआत की है। प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया (social media) पर एक वीडियो पोस्ट किया है, जिसमें कैंपेन का थीम गीत जारी किया गया है। आज ही चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) की तारीखों का एलान करने वाला है। इस कैंपेन के तहत साझा किए गए वीडियो में मोदी सरकार की किसान सम्मान निधि योजना, हर घर नल योजना, उज्जवला योजना और पीएम आवास योजना जैसी योजनाओं को दिखाया गया है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी मेरा भारत, मेरा परिवार कैंपेन के थीम सॉन्ग को अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा किया है। साथ ही केंद्रीय सूचना मंत्री अनुराग ठाकुर ने भी इस थीम सॉन्ग को सोशल मीडिया पर री-पोस्ट किया है।

3. मुफ्त बिजली योजना पर PM मोदी ने दी खुशखबरी! देश की जनता से की ये खास अपील

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने पीएम सूर्य घर योजना (PM Surya Ghar Yojana) को लेकर देशवासियों की प्रतिक्रिया पर खुशी जाहिर की है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि इस योजना के लॉन्च होने के महज एक महीने के अंदर 1 करोड़ परिवारों ने पीएम सूर्य घर योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है. राम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुफ्त बिजली योजना के तौर पर देशभर में एक करोड़ घरों को सौर ऊर्जा की सुविधा देने का ऐलान किया था. खास बात है कि इस योजना से गरीब और मध्यम वर्ग परिवारों को बिजली तो मिलेगी, साथ ही भारत ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर भी बनेगा. केंद्र सरकार की इस योजना को देश के अलग-अलग राज्यों से बहुत ही अच्छा रिस्पॉन्स मिला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने X पर पोस्ट करते हुए लिखा, पीएम सूर्य घर योजना के लिए देश के सभी हिस्सों में पंजीकरण कराए जा रहे हैं. असम, बिहार, गुजरात, महाराष्ट्र, ओडिशा, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश में 5 लाख से अधिक रजिस्ट्रेशन हुए हैं. ऐसे में जिन लोगों ने अभी तक पंजीकरण नहीं कराया है वे भी जल्द से जल्द करा लें.


4. राजनीति में काला धन खत्म करने के लिए लाया गया था इलेक्टोरल बॉन्ड- अमित शाह

इलेक्टोरल बॉन्ड का मामला (electoral bond case) सुप्रीम कोर्ट के हालिया आदेश के बाद से लगातार सुर्खियों में बना हुआ है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अब इस मामले में बयान देते हुए इलेक्टोरल बॉन्ड शुरू करने की वजह बताई है. उन्होंने कहा कि यह योजना राजनीति में काले धन को खत्म करने के लिए शुरू की गई थी और इसे रद्द करने के बजाय इसमें सुधार किया जाना चाहिए था. गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को ‘इंडिया टुडे कॉन्क्लेव’ में यह बात कही. केंद्रीय गृह मंत्री कहा, ‘भारतीय राजनीति में काले धन के प्रभाव को खत्म करने के लिए चुनावी बॉन्ड लाए गए. सुप्रीम कोर्ट का फैसला सभी को मानना होगा. मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का पूरा सम्मान करता हूं, लेकिन मुझे लगता है कि चुनावी बॉन्ड को पूरी तरह खत्म करने की बजाय इसमें सुधार किया जाना चाहिए था.’ वरिष्ठ बीजेपी सांसद ने इसके साथ ही कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी दल के नेता राजनीतिक चंदा नकद में लेते थे. वे 1100 रुपये के चंदे में से 100 रुपये पार्टी के नाम पर जमा करते और 1000 रुपये अपनी जेब में रखते थे. उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस पार्टी ने वर्षों तक इस सिस्टम को चलाया है.’

5. मोदी सरकार का बड़ा एक्शन, यासीन मलिक की पार्टी पर 5 साल का बैन

कश्मीरी अलगाववादी नेता यासीन मलिक (Kashmiri separatist leader Yasin Malik) के संगठन पर प्रतिबंध बढ़ाते हुए, नरेंद्र मोदी सरकार ने शनिवार को घोषणा की कि ‘जम्मू और कश्मीर लिबरेशन फ्रंट’ पांच साल की अवधि के लिए एक ‘गैरकानूनी संगठन’ होगा. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि प्रतिबंधित संगठन जम्मू-कश्मीर में आतंक और अलगाववाद को बढ़ावा देने वाली गतिविधियों में शामिल है. उन्होंने आगे कहा कि देश की सुरक्षा, संप्रभुता और अखंडता को चुनौती देने वाले किसी भी व्यक्ति को कठोर कानूनी परिणाम भुगतने होंगे. गृह मंत्रालय (MHA) ने 2019 में आतंकवाद विरोधी कानून, गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 (UAPA) के तहत मलिक के संगठन पर प्रतिबंध लगा दिया था. इस कदम से कुछ दिन पहले, सरकार ने यूएपीए की धारा 3(1) के तहत जमात-ए-इस्लामी (JEI-J&K) पर प्रतिबंध लगा दिया था. JKLF पर भी उन्हीं धाराओं के तहत प्रतिबंध लगाया गया था, जो केंद्र को किसी भी एसोसिएशन को आधिकारिक राजपत्र में अधिसूचित करके गैरकानूनी घोषित करने की शक्ति देता है. X पर एक अन्य पोस्ट में उन्होंने लिखा ‘आतंकवाद के प्रति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की शून्य-सहिष्णुता की नीति का पालन करते हुए, गृह मंत्रालय ने जम्मू-कश्मीर पीपुल्स लीग के चार गुटों की घोषणा की है- अर्थात्, जेकेपीएल (मुख्तार अहमद वाजा), जेकेपीएल (बशीर अहमद तोता), याकूब शेख के नेतृत्व वाले जेकेपीएल (गुलाम मोहम्मद खान) और जेकेपीएल (अजीज शेख) को ‘गैरकानूनी संघ’ के रूप में जाना जाता है.

6. लोकसभा चुनाव की तारीखों से पहले लक्षद्वीप को बड़ा तोहफा, पेट्रोल-डीजल 15 रुपये सस्ता हुआ

केंद्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप (Lakshadweep) में केंद्र सरकार (Central government) ने एक बार ही में पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) की कीमतों (Price) में बड़ी कटौती की है. सरकार ने लक्षद्वीप में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में 15 रुपये (15 rupees) की कमी की है. लक्षद्वीप के एंड्रॉट और कालपेनी द्वीप में 15.3 रुपये और कवरत्ती और मिनिकॉय में 5.2 रुपये प्रति लीटर की दर से कीमतें कम की गई हैं. केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने इसकी जानकारी दी है.सरकार की तरफ से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती ऐसे समय पर की गई है, जब कुछ ही देर में लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होना है. तारीखों के ऐलान के साथ ही देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो जाएगी. इससे कुछ ही देर पहले सरकार ने ईंधन की कीमतों में कटौती का ऐलान कर दिया है. लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान शनिवार (16 मार्च) को दोपहर 3 बजे किया जा रहा है. सरकार ने शुक्रवार (15 मार्च) को ही पेट्रोल और डीजल की कीमतों में दो रुपये की कटौती की थी.


7. किन राज्यों में सबसे पहले लोकसभा चुनाव, जानें कहां होगी सबसे आखिर में वोटिंग

चुनाव आयोग (election Commission) ने शनिवार (16 मार्च) को लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों का ऐलान (Announcement of dates of Lok Sabha elections 2024) चुनाव आयोग कर दिया है. देश की सभी 543 लोकसभा सीटों के साथ-साथ इस बार आंध्र प्रदेश, सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश और ओडिशा में चुनाव होंगे. इस बार लोकसभा चुनाव में लगभग 96 करोड़ से ज्यादा वोटर्स अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. सीईसी राजीव कुमार ने बताया इस बार 7 चरणों में चुनाव होगा. पहले चरण में 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में वोटिंग होगी.जबकि अंतिम चरण में 8 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में मतदान होगा. वोटों की गिनती 4 जून को होगी. पहले चरण मेंअरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, चंडीगढ़, दिल्ली, गोवा, तेलंगाना तमिलनाडु, अंडमान निकोबार, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, केरल, लक्ष्यद्वीप, लद्दाख, मिजोरम , मेघालय, नागालैंड, पुड्डुचेरी, सिक्किम, पंजाब और उत्तराखंड में चुनाव होंगे. वहीं, आखिरी फेज में उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल में वोटिंग होगी. तारीखों का ऐलान होने के साथ ही देशभर में आदर्श आचार संहिता (MCC) लागू हो जाएगी. आदर्श आचार संहिता चुनावी नतीजे आने के दिन तक लागू रहेगी. आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद तमाम राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को चुनाव आयोग के निर्देशों का पालन करना पड़ेगा.

8. लोकसभा के साथ देश की 26 विधानसभा सीटों पर होंगे उपचुनाव, चुनाव आयोग ने किया ऐलान

चुनाव आयोग ने देशभर में लोकसभा चुनावों के कार्यक्रम का ऐलान कर दिया है। देश में सात चरण में चुनाव संपन्न कराए जाएंगे (Elections will be conducted in seven phases)। पहले चरण का मतदान 19 अप्रैल, दूसरे चरण का 26 अप्रैल, तीसरे चरण का 07 मई, चौथे चरण का मतदान 13 मई, पांचवें चरण का मतदान 20 मई, छठे चरण का मतदान 26 मई और सातवें चरण का मतदान 1 जून को संपन्न कराया जाएगा। इसके साथ ही पूरे देश में मतगणना 4 जून को संपन्न होगी। लोकसभा चुनावों के साथ-साथ देश के विभिन्न राज्यों की 26 विधानसभा सीटों पर मतदान कराया जाएगा। इसमें बिहार की एक, गुजरात की पांच, हरियाणा की एक, झारखंड की एक, महाराष्ट्र की एक, त्रिपुरा की एक, उत्तर प्रदेश की चार, पश्चिम बंगाल की दो, तेलंगाना की एक, हिमाचल प्रदेश की छ:, राजस्थान, कर्नाटक और तमिलनाडु की एक विधानसभा सीटों पर उपचुनाव संपन्न होंगे।


9. इंदौर में 13 मई, भोपाल में 7 मई को वोटिंग…जानिए आपके शहर में कब होंगे चुनाव?

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha elections) 2024 के लिए चुनाव आयोग ने तारीखों की घोषणा कर दी है। चुनाव आयोग ने शनिवार (16 मार्च) को 3 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ये अहम जानकारी दी है। चुनाव आयोग ने बताया है कि लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण की वोटिंग 19 अप्रैल को होगी और आखिरी चरण का मतदान 1 जून को होगा। लोकसभा के चुनाव कुल 7 चरणों में होंगे जिसमें से पहला चरण 19 अप्रैल को, दूसरा चरण 26 अप्रैल, तीसरा चरण 7 मई को, चौथा चरण 13 मई, पाचवां चरण को 20 मई, छठा 25 मई और सातवें चरण का मतदान 1 जून को होगा। चुनाव आयोग (Election Commission) ने बताया कि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की कुल 29 लोकसभा सीटों पर कुल 4 फेज में चुनाव होंगे। पहले चरण 19 अप्रैल को 6 सीटों पर चुनाव होगा। 26 अप्रैल यानी दूसरे चरण में 7 सीटों पर चुनाव होगा। 8 सीटों पर तीसरे चरण में 7 मई को चुनाव वोटिंग होगी और बाकी 8 सीटों के लिए चौथे चरण यानी 13 मई को चुनाव होंगे।

10. वायनाड में 19 अप्रैल, वाराणसी में 1 जून को वोटिंग…जानिए देश की हॉट सीटों पर कब है चुनाव

लोकतंत्र के महापर्व (great festivals of democracy) और चुनावी महासंग्राम का शंखनाद हो गया है. चुनाव आयोग ने शनिवार को लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान (Announcement of Lok Sabha election dates) कर दिया है. पूरा चुनाव 7 फेज में होगा. पहले चरण की वोटिंग 19 अप्रैल को होगी. देशभर में इलेक्शन की प्रक्रिया 43 दिन तक चलेगी. जबकि 4 जून को नई सरकार सत्ता पर काबिज होगा. चुनाव आयोग के घोषित किए गए शेड्यूल (Schedule announced by Election Commission) के मुताबिक, 19 अप्रैल को पहले चरण की वोटिंग होगी, जबकि दूसरा चरण 26 अप्रैल, तीसरा 7 मई, चौथा चरण 13 मई, पांचवां चरण 20 मई, छठवां चरण 25 मई और सातवें चरण की वोटिंग 1 जून को होगी. वोटों की गिनती 4 जून को होगी. चुनाव की तारीखों के बाद जहां एक और सभी की दिलचस्पी ये जानने को लेकर है कि कब, किस डेट में कहां वोटिंग होगी, वहीं उनकी निगाह उन बड़ी सीटों पर भी हैं, जो अपने उम्मीदवारों के कारण Hot Seat बन चुकी हैं.

Share:

Next Post

कश्मीर में अमन से गुलजार होता गोवा

Sun Mar 17 , 2024
– आर.के. सिन्हा अब गोवा के करीब आता जा रहा है कश्मीर। हो सकता है कि यह बात अविश्सनीय लगे, पर सच तो यही है। कश्मीर घाटी से हजारों लोगों का गोवा घूमने के लिए जाना बताता है कि दोनों राज्य करीब आ रहे हैं। ये दोनों राज्य न केवल भारत बल्कि दुनिया के सर्वश्रेष्ठ […]