इंदौर न्यूज़ (Indore News)

मुस्लिम वार्डों में बढ़ा मतदान किसका, भाजपा और कांग्रेस लगा रहे अपने-अपने कयास

  • भाजपा लाडली बहना का असर बता रही तो कांग्रेस का कहना-मुस्लिम समाज हमेशा से कांग्रेस पर ही करता है विश्वास

इंदौर, संजीव मालवीय। इस बार मुस्लिम क्षेत्रों में बढ़े मतदान के प्रतिशत को लेकर शहरभर में चर्चा हैं। इंदौर में 9 मुस्लिम बहुल वार्ड है तो कुछ इलाकों में मामूली मुस्लिम मतदाता हैं, लेकिन जिस तरह से वोटिंग हुआ है, उसे लेकर भाजपा और कांग्रेस के नेता कयास लगा रहे हैं ये किसके पक्ष में गया है? भाजपा इसे मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना का असर बता रही है तो कांग्रेस इसे अपना वोट बैंक बता रही है।

हालांकि इस बार मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण में मुस्लिम मतदाताओं की संख्या में भी इजाफा हुआ है। मतदान वाले दिन देखने में आया था कि मुस्लिम बहुल वार्डों में महिलाओं की लंबी-लंबी लाइन लगी थी और खूब मतदान हुआ। इंदौर में 9 वार्ड पूरी तरह से मुस्लिम मतदाताओं से भरे पड़े हैं और यहां हर वार्ड में जोरदार मतदान हुआ है। इंदौर 1 में दो, इंदौर 3 में 2, इंदौर 4 में 2, इंदौर 5 में 3 वार्डों में मुस्लिम मतदाताओं ने औसतन 70 प्रतिशत के आसपास मतदान किया है। इसमें महिलाओं की संख्या भी अधिक हैं। सबसे ज्यादा मतदान 3 नंबर विधानसभा के सदर बाजार और रानीपुरा वार्ड यानि 58 और 60 नंबर वार्ड में हुआ है। वहीं खजराना क्षेत्र के दो वार्ड 38 और 39 तथा आजाद नगर के मतदान केन्द्रों पर भी जोरदार मतदान हुआ है। यहां तो शाम 6 बजे तक लाइन ही समाप्त नहीं हुई थी। यहां भी महिला मतदाताओं की संख्या अच्छी रही। अब मुस्लिम क्षेत्रों में मतदान को लेकर कयास लगाए लगाए जा रहे हैं कि इतनी बड़ी संख्या में हुआ मतदान किसके पक्ष में गया है। वैसे आमतौर पर मुस्लिम मतदाता कांग्रेस को ही वोट करता है, लेकिन भाजपा के नेताओं का कहना है कि जिस तरह से सबका विकास और सबको योजनाओं का लाभ दिलवाया गया और लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ महिलाओं को मिला, उससे इस बार महिला वोट बैंक भाजपा के पक्ष में आया है।


5 नंबर विधानसभा में बढ़े हैं सर्वाधिक मतदाता
पुनरीक्षण के दौरान इस बार चारों विधानसभाओ में करीब 30 हजार मतदाताओं की संख्या बढ़ी। इसमें सबसे ज्यादा मतदाता 5 नंबर विधानसभा में बढ़े। 5 नंबर विधानसभा में 1 लाख से ज्यादा मुस्लिम मतदाता है, जबकि यहां तीन वार्ड आते हैं और कुछ वार्डों में मुस्लिम बस्तियां भी हैं। एक तरह से पूरे शहर में ढाई लाख मतदाता मुस्लिम हैं। इस बार करीब पौने दो लाख मतदाताओं ने मतदान किया है, जबकि पिछली बार डेढ़ लाख मत डले थे।

दो क्षेत्रों में जनसंपर्क करने ही नहीं गए भाजपा प्रत्याशी
वैसे मुस्लिम वोट बैंक भाजपा के लिए न के बराबर ही गिरता है, लेकिन इस बार भाजपा के नेताओं को भी आशा है, लेकिन इस चुनाव में देखा जाए तो 4 नंबर विधानसभा में मालिनी गौड़ और राऊ में मधु वर्मा मुस्लिम क्षेत्रों में घूमे ही नहीं, जबकि 1 नंबर के भाजपा प्रत्याशी कैलाश विजयवर्गीय ने दो बड़ी सभा ली और गोलू शुक्ला ने भी सभा की है। 5 नंबर में महेन्द्र हार्डिया भी वहां के मुस़्िलम नेताओं के साथ बैठकें लेने पहुंचे। हालांकि वे ज्यादा इस क्षेत्र में नहीं घूमे।

ये 9 वार्ड है मुस्लिम बहुल
ठ्ठ एक नंबर विधानसभा
वार्ड क्रमांक 2 और 8
ठ्ठ 3 नंबर विधानसभा 58 एवं 60 नंबर वार्ड
ठ्ठ 4 नंबर विधानसभा 54 एवं 73 नंबर वार्ड
ठ्ठ 5 नंबर विधानसभा 38, 39 और 53 नंबर वार्ड

Share:

Next Post

कमाई के मामले में आगे बढ़ रहा पर्यटन विकास निगम का लाइट एंड साउंड शो

Wed Nov 22 , 2023
शिकायत मिलने के बाद दूर हुई कमियों के बाद बढ़े दर्शक, अगले महीने से टिकट व्यवस्था में सुधार के साथ बदलाव इंदौर, नासेरा मंसूरी। मार्च में राजबाड़ा के खुलने के साथ ही शुरू हुआ मध्यप्रदेश पर्यटन विकास निगम का लाइट एंड साउंड शो दर्शकों को रास आने लगा है। इससे कमाई के मामले में विभाग […]