बड़ी खबर राजनीति

बसवराज बोम्मई होंगे Karnataka के नए मुख्यमंत्री, आज लेंगे शपथ

– केन्द्रीय पर्यवेक्षकों के साथ बैठक में बोम्मई को विधायक दल का नया नेता चुना गया

बेंगलुरु। कर्नाटक (Karnataka) में बीएस येदियुरप्पा की कैबिनेट (BS Yediyurappa’s cabinet) में गृह मंत्री (Home Minister) रहे बसवराज बोम्मई (Basavaraj Bommai) अब कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री (new chief minister) होंगे। उन्हें मंगलवार शाम यहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की बैठक में पार्टी विधायक दल का नया नेता चुना गया। बसवराज बोम्मई बुधवार को कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण पूर्वाह्न 11 बजे होगा।

उनकी सरकार में तीन नए उप मुख्यमंत्री आर.अशोक, बी.श्रीरामुलु और गोविंद करजोल होंगे।। गोविंद करजोल पिछले बीएस येदियुरप्पा मंत्रिमंडल में उप मुख्यमंत्री थे। डॉ सीएन अश्वत्नारायण और पिछली कैबिनेट में पूर्व उप मुख्यमंत्री लक्ष्मण सावदी को पद से हटा दिया गया है। कल बसवराज बोम्मई अकेले शपथ लेंगे।

कार्यवाहक मुख्यमंत्री येदियुरप्पा केंद्रीय मंत्रियों जी किशन रेड्डी और धर्मेंद्र प्रधान के साथ एक निजी होटल में पहुंचे, जहां विधायक दल की बैठक हुई। निवर्तमान मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने बसवराज बोम्मई के नाम का प्रस्ताव रखा, जबकि पूर्व उपमुख्यमंत्री गोविंद करजोल ने नए नेता के चुनाव के प्रस्ताव का समर्थन किया। केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बैठक के तुरंत बाद बसवराज बोम्मई के सर्वसम्मति से विधायक दल का नया नेता चुने जाने की घोषणा की।

जानकार सूत्रों के मुताबिक चंद मिनटों में नए नेता के चुनाव की औपचारिकता पूरी हो गई। औपचारिक बैठक से पहले पार्टी की कोर कमेटी की बैठक इसी स्थल पर कुछ देर पहले हुई थी। बीएस येदियुरप्पा के विश्वासपात्र बसवराज बोम्मई ने आभार व्यक्त करने के लिए उनके पैर छुए। राज्य भाजपा प्रभारी अरुण सिंह, केंद्रीय मंत्रियों धर्मेंद्र प्रधान, जी किशन रेड्डी और डीके अरुणा ने पर्यवेक्षक के रूप में पार्टी आलाकमान का प्रतिनिधित्व किया।

बसवराज बोम्मई सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत एसआर बोम्मई के पुत्र हैं। 61 वर्षीय बसवराज बोम्मई हावेरी जिले के शिग्गावी निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। उनके पिता एसआर बोम्मई के मामले में 1996 का सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला लोगों के जेहन में आज भी होगा। वह बीवी भूमराद्दी इंजीनियरिंग कॉलेज, हुबली से मैकेनिकल इंजीनियरिंग स्नातक हैं। उन्होंने सक्रिय राजनीति में शामिल होने से पहले हुबली और बेंगलुरु में अपना उद्योग भी स्थापित किया।

वास्तव में उन्होंने 2007 में धारवाड़, गडग और हावेरी जिलों के वर्षा वाले क्षेत्रों में पीने के उद्देश्य से महादयी नदी के पानी पहुंचाने के उद्देश्य से कलासा बरदूर नाला आंदोलन में शामिल होकर सार्वजनिक जीवन में प्रवेश किया। बसवराज कन्नड़, हिंदी और अंग्रेजी तीनों भाषाओं में पारंगत हैं। बसवराज बोम्मई येदियुरप्पा के करीबी हैं और उनके दोनों मंत्रिमंडल में मंत्री रहे हैं। वह साल 2008 में जनता दल सेक्युलर को छोड़ कर भाजपा में शामिल हुए और तब से भाजपा में बने हुए हैं। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

Rakesh Asthana दिल्ली पुलिस आयुक्त नियुक्त

Wed Jul 28 , 2021
नई दिल्ली। सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक (Director General, Border Security Force) राकेश अस्थाना (Rakesh Asthana) को मंगलवार को दिल्ली पुलिस का आयुक्त (Commissioner of Delhi Police) नियुक्त किया गया है। राकेश अस्थाना 1984 बैच के गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी हैं। उन्हें सेवानिवृत्त होने के तीन दिन पहले नई नियुक्ति मिली है। गृह मंत्रालय […]