बड़ी खबर राजनीति

BJP कल्कि धाम से देगी हिंदुत्व के एजेंडे को धार, PM के दौरे का पश्चिमी यूपी के कई जिलों पर होगा असर

संभल (Sambhal)। श्री कल्कि धाम (Shri Kalki Dham) के शिलान्यास समारोह (Foundation stone) में 19 फरवरी को प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) की मौजूदगी कल्कि धाम (Kalki Dham) के काम को रफ्तार देने के साथ मंडल की सियासत में हिंदुत्व के एजेंडे को भी धार देगी। समारोह में मुरादाबाद मंडल के साथ-साथ बदायूं-बरेली तथा कुछ अन्य जिलों के भाजपाई भी मौजूद रहेंगे। प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) का संबोधन कार्यकर्ताओं में जोश भरेगा। साथ ही लोकसभा चुनाव तक के सफर का एजेंडा भी उन्हें मिलेगा।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) कल्कि धाम के शिलान्यास समारोह में भाग लेने के लिए 19 फरवरी को संभल आएंगे। लोकसभा के चुनाव से पहले प्रधानमंत्री का संभल दौरा मंडल की सियासत के लिए महत्वपूर्ण साबित हो सकता है। प्रधानमंत्री यहां पर जनसभा को संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री का भाषण मुरादाबाद मंडल के भाजपाइयों में जोश भरने का काम कर सकता है। क्योंकि 2019 के लोकसभा चुनाव में मंडल सभी छह सीटों (मुरादाबाद, रामपुर, अमरोहा, संभल, बिजनौर और नगीना) पर भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था।

तीन सीट (रामपुर, मुरादाबाद और संभल) सपा के खाते में आई तो तीन (अमरोहा, बिजनौर और नगीना) बसपा के। हालांकि 2022 में रामपुर के सांसद आजम खां के इस्तीफे के बाद हुए उप चुनाव में इस सीट पर भाजपा ने जीत हासिल कर ली थी। भाजपा मुरादाबाद मंडल की लोकसभा सीटों को लेकर काफी गंभीर है। पार्टी का फोकस भी मंडल की छह सीटें हैं ताकि लोकसभा के चुनाव में सीटों की संख्या बढ़ाई जा सके।

2014 के लोकसभा चुनाव में मंडल की सभी सीटों पर जीती थी भाजपा
2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने मुरादाबाद मंडल की सभी छह सीटों पर जीत हासिल की थी। भाजपा 2024 में 2014 का इतिहास दोहराना चाहती है। चुनाव का एलान होने से कुछ दिन पहले पीएम का दौरा मंडल के भाजपा कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाने का काम करेगी।

Share:

Next Post

West Bengal: शेर का नाम अकबर और शेरनी का सीता..., वन विभाग के खिलाफ HC पहुंचा विहिप

Sun Feb 18 , 2024
कोलकाता (Kolkata)। पश्चिम बंगाल (West Bengal) में शेर (Lion) का नाम ‘अकबर’ (Akbar) और शेरनी (Lioness) का नाम ‘सीता’ (Sita) रखने के खिलाफ विश्व हिंदू परिषद (Vishwa Hindu Parishad) ने कलकत्ता हाईकोर्ट (Calcutta High Court) की जलपाईगुड़ी सर्किट बेंच (Jalpaiguri Circuit Bench) में वन विभाग के खिलाफ याचिका दायर की है। इसमें बताया है कि […]