बड़ी खबर

रामनगर में फिर बह गई कार, चार लोगों ने कूदकर बचाई जान


रामनगर । नैनीताल जिले (Nainital District) के रामनगर में (In Ramnagar) एक बार फिर से एक कार बह गई (Car Washed Away), चार लोगों (Four People) ने कूदकर जान बचाई (Jumped and Saved Their Lives), लेकिन उनकी कार पानी की तेज धार में बह गई।

बीते दिनों ढेला में पंजाब के पर्यटकों की एक कार बह गई थी जिसमें 9 लोगों की मौत हो गई थी। मंगलवार को भी धनगढ़ी नाले के उफान पर आने से एक ऑल्टो कार बह गई। गनीमत रही कि कार सवार चार लोग समय रहते ही कूद गए। किसी तरह उनकी जान बच गई। कुमाऊं और गढ़वाल को जोड़ने वाले नेशनल हाईवे 309 पर स्थित धनगढ़ी नाला फिर उफान पर आ गया, जिसमें नाले को पार कर रही अल्टो कार फंस गई। कार में 4 शिक्षक सवार थे। जो किसी तरह कार से कूदकर अपनी जान बचाने में सफल हुए, लेकिन उनकी कार पानी की तेज धार में बह गई।

वहीं, नाले के उफान पर आने से सुबह से ही यातायात बाधित है। लोग घंटों से पानी कम होने का इंतजार कर रहे हैं। प्रशासन की ओर से भी जेसीबी से पत्थरों को हटाने का काम किया जा रहा है। इस नाले में अब तक दर्जनों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। साल 2020 में यहां पुल निर्माण के काम को मंजूरी मिली थी। जिसे 18 महीने के भीतर पूरा किया जाना था, लेकिन आज तक पुल का कोई अता पता नहीं है।

राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी से मिलकर पुल निर्माण के लिए विशेष प्रयास किए थे, जिसके तहत पुल की मंजूरी भी मिल गई थी। जबकि, इस क्षेत्र में दो पुल बनने थे। धनगढ़ी में 150 मीटर लंबाई का पुल बनाया जाना था। जिसकी लागत 7 करोड़ 65 लाख रुपए थी और पनोद नाले पर भी 90 मीटर लंबा पुल 6 करोड़ 33 लाख की लागत से बनना था, जो आज तक तैयार नहीं हो पाया है। आज भी लोगों को इस पुल के बनने का इंतजार करना पड़ रहा है।

Share:

Next Post

तमिलनाडु में बिना लाइसेंस के चल रहीं कई पत्थर की खदानें, पूर्व विधायक ने किया खुलासा

Tue Jul 12 , 2022
चेन्नई । तमिलनाडु में (In Tamilnadu) तेनकासी (Tenkasi) के पूर्व विधायक (Former MLA) के. रविअरुणन (K. Ravi Arunan) ने मंगलवार को कहा कि जिले में 32 पत्थर खदानों में से (Out of 32 Stone Mines in the District) 9 बिना लाइसेंस के चल रही हैं (9 Running Without License) । रविअरुणन ने अपने एक बयान […]