बड़ी खबर

‘अगर लोकसभा चुनाव में बीजेपी की 370 सीटें नहीं आईं तो…’, प्रशांत किशोर का बड़ा दावा

नई दिल्ली: चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने मंगलवार (21 मई) को दावा किया कि केंद्र में मौजूद मोदी सरकार के खिलाफ न कोई खास असंतोष है और न ही मजबूत विकल्प. प्रशांत किशोर ने कहा, मोदी के नेतृत्व में NDA तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है. उन्होंने कहा, बीजेपी इस बार 2019 की 303 सीटों के करीब या उससे ज्यादा सीटों पर जीत हासिल कर सकती है.

एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू में पीके ने कहा, मुझे लगता है कि मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सत्ता में लौट रही है. उन्हें पिछले बार के बराबर या उससे कुछ ज्यादा सीटें मिल सकती हैं. बीजेपी के 370 सीटों के टारगेट के सवाल में प्रशांत किशोर ने कहा, अगर बीजेपी 275 सीटें जीतती है, तो उसके नेता ये नहीं कहेंगे कि वे सरकार नहीं बनाएंगे, क्योंकि उन्होंने 370 सीटें जीतने का दावा किया है. हमें ये देखना होगा कि बीजेपी बहुमत के आंकड़े को पार कर रही है या नहीं. लेकिन मुझे नहीं लगता कि बीजेपी के सत्ता में लौटने में कोई खतरा है.


इतना ही नहीं प्रशांत किशोर ने बीजेपी के 370 सीटों के दावे को स्मार्ट मूव बताया. उन्होंने कहा, इससे चुनाव की चर्चा बदल गई. हालांकि, पीके ने कहा, “जब किसी कंपनी से अपेक्षाएं बहुत अधिक होती हैं और अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद वे उस पर खरे नहीं उतरते हैं, तो इसका असर शेयर बाजार पर दिखता है. इसी तरह अगर बीजेपी 370 से कम सीटें हासिल करती है, तो यह चर्चा का विषय बन सकता है और यह इसका असर मार्केट पर भी दिख सकता है. साथ ही कहा, ”पिछले 3-4 महीनों में चर्चा 370 और 400 पार पर हो रही है. इसे बीजेपी की रणनीति मानें या विपक्ष की कमजोरी लेकिन बीजेपी ने अपना लक्ष्य पूरी तरह से 272 से 370 पर शिफ्ट कर दिया है. इससे बीजेपी को फायदा हुआ है. अब कोई यह नहीं कह रहा है कि मोदी जी हारेंगे, सब कह रहे हैं कि उन्हें 370 सीटें मिलेंगी या नहीं.”

Share:

Next Post

'सारे सपने टूट गए', पुणे कार हादसे से टूटा पीड़ितों का परिवार; कहा- कैसे दी 3 करोड़ की कार

Tue May 21 , 2024
डेस्क: पोर्श कार एक्सिडेंट केस में पुलिस ने नाबालिग के पिता को गिरफ्तार कर लिया है. रविवार को आधी रात नाबालिग ने पोर्श कार से दो लोगों को टक्कर मार दी थी, जिससे दो लोगों की मौत हो गई थी. इस हादसे के 5 घंटे के भीतर आरोपी नाबालिग को जमानत मिल गई थी. सोशल […]