बड़ी खबर

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कल, PM Modi सुबह 6.30 बजे करेंगे संबोधित

नई दिल्ली। 21 जून को पूरे विश्व में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (international yoga day) मनाया जाएगा। इस अवसर पर भारत (India) समेत कई देशों में कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। वहीं इन सब के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने भी ट्वीट कर कल के अपने कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी है। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि कल 21 जून को हम 7वां योग दिवस मनाएंगे। इस वर्ष का विषय ‘योग फॉर वेलनेस’ (yoga for wellness) है, जो शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग(Yoga) का अभ्यास करने पर केंद्रित है। उन्होंने कहा कि वे कल सुबह करीब साढ़े छह बजे योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।
वहीं आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH) की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि सभी दूरदर्शन चैनलों पर सुबह 6:30 बजे शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में आयुष राज्य मंत्री किरन रिजिजू (Minister of State for AYUSH Kiren Rijiju) का संबोधन और मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान (Morarji Desai National Institute of Yoga) के योग प्रदर्शन का सीधा प्रसारण भी शामिल है।


मंत्रालय ने कहा कि इस महामारी के अनुभव ने योग के स्वास्थ्य लाभों के बारे में जनता को अधिक जागरूक बना दिया है और इस अनुभव को आयुष मंत्रालय ने अपने प्रचार प्रयासों में विधिवत समायोजित किया है। कोविड-19 पर मंत्रालय की सलाह ने प्रतिरक्षा स्तर को बढ़ावा देने और कोविड-19 से निपटने के लिए योग के नियमित अभ्यास के महत्व पर प्रकाश डाला।
इन सलाहों को सरकार और अन्य हितधारकों के कई माध्यमों के जरिए व्यापक रूप से प्रचारित किया गया और जनता के साथ-साथ स्वास्थ्य पेशेवरों के लिए भी उपयोगी पाया गया था।
मंत्रालय ने कहा कि देश के विभिन्न हिस्सों से आई रिपोर्टों से इस बात के संकेत मिलते हैं कि कोविड-19 मरीजों के इलाज में सहायक प्रक्रियाओं के रूप में कई अस्पतालों में योग अभ्यासों को सफलतापूर्वक शामिल किया गया है और योग इस बीमारी से तेजी से ठीक होने में अपना योगदान देता है।
बता दें कि 21 जून 2015 को पूरे विश्व में पहली बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया जिसमें करीब 36 हजार लोग शामिल हुए थे। साथ ही, लगभग 84 देशों के प्रतिनिधियों ने भी योग के 21 आसन किए। इस कोरोना काल में स्वस्थ रहने में योग ने अहम भूमिका निभाई है।

Share:

Next Post

प्रमाणपत्र में मृत्यु का कारण कोविड-19 बताने में चूक पर होगी दंडात्मक कार्रवाई

Sun Jun 20 , 2021
नई दिल्ली। केंद्र सरकार (Central Government) ने सुप्रीम कोर्ट (supreme court) से कहा है कि मृत्यु प्रमाणपत्र (death certificate) में मृत्यु का कारण कोविड-19 (cause of death covid-19) को बताने में किसी भी चूक के लिए जिम्मेदार पाए जाने वालों के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई होगी, चाहे वह डॉक्टर ही क्यों न हो। सुप्रीम कोर्ट (supreme […]