देश

सिर्फ 4 करोड़ को लगे दो डोज

देशभर में वैक्सीनेशन अभियान ठप
नई दिल्ली। वैक्सीन (Vaccine)  की कमी के चलते देशभर में वैक्सीनेशन (Vaccination) अभियान पूरी तरह सुस्त पड़ा है। 130 करोड़ की आबादी में अब तक जहां 17.72 करोड़ लोगों को वैक्सीन का टीका लगा है वहीं सिर्फ 4 करोड़ लोग ही ऐसे हैं जिनको वैक्सीन के दोनों डोज लग पाए ।
भारत सरकार (Government of India) द्वारा जहां कोरोना (Corona)  से लड़ाई में ढिलाई बरती गई वहीं जीवन बचाने वाली वैक्सीन (Vaccine)  के उत्पादन पर भी ध्यान नहीं दिया गया और नतीजा यह रहा कि वैक्सीन (Vaccine)  उत्पादन करने वाली सीरम ने अधिकांश डोज जहां विदेशों में निर्यात कर डाले वहीं देश की अन्य दवा उत्पादक कंपनियों को भारत सरकार ने मंजूरी ही नहीं दी और न ही भारत की बायोटेक (Biotech) कंपनी की वैक्सीन को तवज्जो दी। नतीजा यह रहा कि जो कंपनियां हर माह 10 करोड़ वैक्सीन बनाने का दावा कर रही थी वह 6 माह में देश को मात्र 17.72 करोड़ टीके दे पाई और केवल 4 करोड़ लोगों को डबल डोज लग पाए।


13 राज्य विदेशों के भरोसे… निकाले ग्लोबल टेंडर
सीरम और बायोटेक द्वारा मांग की आपूर्ति से हाथ खड़े कर दिए जाने के बाद दिल्ली, राजस्थान सहित 13 राज्यों ने ग्लोबल टेंडर (Global Tender) निकालकर विदेशी वैक्सीन (Vaccine)  निर्माताओं से वैक्सीन खरीदने का निर्णय लिया है। इन दोनों राज्यों के अलावा कर्नाटक, उत्तराखंड, तेलंगाना, महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, ओडिशा, हरियाणा के साथ ही मध्यप्रदेश भी शामिल है।

Share:

Next Post

इंदौर में 12 से 15 स्थानों पर बनेंगे म्युकर क्लिनिक

Fri May 14 , 2021
  ब्लैक फंगस की रोकथाम के लिए आईएमए और डॉक्टर की टीम तैयार कर रहा प्रशासन इंदौर। संजीव मालवीय शहर में कोरोना के साथ ब्लैक फंगस (Black Fungus) यानि म्युकरमाइक्रोसिस (Mucormycosis) के मरीज भी अब बढऩे लगे हैं। एमवाय में इसका इलाज शुरू हो चुका है और कुछ प्राइवेट अस्पताल (Private Hospital) भी अपने स्तर […]