देश

‘लोगों ने मेरी मां को गाली दी और आप खामोश थे’, चिराग पासवान का तेजस्वी को पत्र

जमुई। बिहार के जमुई में लोकसभा चुनाव 2024 के लिए आयोजित रैली में तेजस्वी यादव के समर्थकों द्वारा चिराग पासवान के परिवार को गाली देने का मामला तूल पकड़ता दिखाई दे रहा है। एनडीए गठबंधन के नेता लगातार तेजस्वी यादव पर हमलावर हैं। इस बीच अब चिराग पासवान ने भी तेजस्वी यादव को पत्र लिखा है। इस पत्र में चिराग ने कहा है कि मैंने सदैव आपको अपना छोटा भाई माना और आपके और अपने परिवार में कभी फर्क नहीं समझा। लेकिन आपके सामने मेरे परिवार को लेकर गाली-गलौज जैसी भाषा का प्रयोग भी किया गया जो बेहद निंदनीय है।

तेजस्वी यादव को लिखे पत्र में चिराग ने कहा है कि। मैंने सदैव आपको अपना छोटा भाई माना और आपके और अपने परिवार में कभी फर्क नहीं समझा। राबड़ी देवी जी एवं लालू प्रसाद यादव जी को हमेशा माता-पिता तुल्य माना। जब जमुई में आप एक चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे तभी कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा मुझे और मेरे परिवार को लेकर आपके सामने ही अपशब्दों का इस्तेमाल किया गया।

चिराग ने कहा है कि किसी की मां के बारे में ऐसी अभद्र भाषा मेरे लिए कल्पना से परे है। दुःख मुझे तब और ज्यादा हुआ जब आपकी पार्टी की प्रत्याशी जो खुद एक महिला होते हुए इस घटना को नजरंदाज करती रही। चिराग ने तेजस्वी को लिखे पत्र में कहा है कि मंच के ठीक सामने पहली पंक्ति में खड़े लोग चिल्ला-चिल्लाकर मुझे और मेरी माँ को गाली दे रहे थे और आप खामोशी से खड़े थे। उस वक्त मंच पर इतना भी शोर नहीं था कि आपके कान में वो बातें नहीं आई हो। मंच पर आप खड़े थे और आपके ठीक नीचे कुछ फासले पर यह अपशब्द कहे जा रहे थे।


चिराग ने तेजस्वी से कहा है कि आपकी पार्टी के समर्थकों द्वारा की गई इस हरकत से 90 के दशक की जंगलराज की यादें ताजा हो गई है। उस दौर में माँ-बेटियों का घरों से निकलना भी दूभर था। महिलाओं को अपमानित और प्रताड़ित किया जाता था। आज इस घटना के बाद एक पुत्र होने के नाते मेरे लिए अपनी माँ के बारे में ऐसा शब्द सुनना कितना पीड़ादायक है, इसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते। मैं चाहता हूँ की आप अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं और समर्थकों को कड़ा संदेश दें ताकि आइंदा मेरे साथ ही नहीं बल्कि बिहार में रह रही किसी भी माँ-बहन के लिए ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं किया जा सके।

दरअसल, जमुई में तेजस्वी यादव की जनसभा का एक वीडियो वायरल हुआ था। तेजस्वी यादव जनसभा को संबोधित करने के लिए माइक पर थे, उनके बगल में जमुई की राष्ट्रीय जनता दल प्रत्याशी अर्चना रविदास खड़ी थीं। मंच के ठीक सामने राजद की महिला प्रत्याशी के आगे चिराग पासवान और उनकी मां को लेकर आपत्तिजनक बातें कही जा रही थीं। एक बार नहीं, बार-बार। राजद समर्थक यह अपशब्द बोल रहे थे और सामने राजद के पूर्व विधायक विजय कुमार को संबोधित करते हुए जीत का दावा कर रहे हैं।

Share:

Next Post

अब तक के इतिहास में हुआ गजब कारनामा! अंडमान निकोबार में इस समूह ने पहली बार डाला वोट

Fri Apr 19 , 2024
नई दिल्ली। आज देशभर में लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण की वोटिंग हुई। इस चरण में 21 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश की 102 सीटों पर वोटिंग हुई। साथ ही इतिहास में पहली बार एक और शानदार काम हुआ है। केंद्रशासित प्रदेश अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में पहली बार शोंपेन जनजाति के 7 लोगों ने शुक्रवार […]