खेल

टोक्यो ओलंपिक एथलीटों को प्रशिक्षण के समय सहायता प्रदान करने का वादा

 

नई दिल्ली। केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Sports Minister Kiren Rijiju) ने शनिवार को कहा कि टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) से जुड़े एथलीटों की अतिरिक्त देखभाल की जाएगी। कोरोनोवायरस (Coronovirus) महामारी के कारण स्थगित होने के बाद इस साल 23 जुलाई से 8 अगस्त तक टोक्यो ओलंपिक का आयोजन किया जाएगा।

इस बीच, कोविड-19 (Covid19) संकट ने भारत (India) को जकड़ लिया है और देश हर दिन 3 लाख से अधिक नए मामले दर्ज कर रहा है। रिजिजू ने स्वीकार किया कि एथलीटों को टोक्यो ओलंपिक के लिए उनकी तैयारी में चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है और इसलिए उन्होंने प्रशिक्षण के समय सहायता प्रदान करने का वादा किया है।

रिजिजू ने ट्वीट किया, “महामारी के कारण हमारे एथलीटों को टोक्यो ओलंपिक की तैयारी के दौरान जटिल चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। सरकार हमारे एथलीटों को अतिरिक्त देखभाल और सहायता प्रदान करेगी।”

पिछले महीने, रिजिजू ने कहा कि वह ओलंपिक में भारत से दो अंकों में पदक हासिल करने की उम्मीद कर रहे हैं। उन्होंने एक बयान में कहा था,”ओलंपिक के शुरू होने में अब 100 दिन से भी कम का समय बचा है, यहां से हर दिन सभी एथलीटों के लिए महत्वपूर्ण है। हम हर एथलीट के लिए इन ओलंपिक को बहुत यादगार बनाना चाहते हैं। भारत अपनी विशाल आबादी के साथ ओलंपिक में एक बड़ी भूमिका निभा सकता है और अधिक पदक जीतना संभव है।”

उन्होंने कहा, “भारत को दोहरे अंकों में (पदक में) पार करना होगा। सभी एथलीटों को शुभकामनाएं, साई की ओर से एथलीटों को किसी भी ओलंपिक-आधारित सुविधाओं की कोई कमी नहीं होगी।”

इसके अलावा, खेल मंत्री ने निशानेबाजों के लिए डॉ.कर्णी सिंह शूटिंग रेंज (Dr. Karni Singh Shooting range) में नवीनतम लेजर तकनीक (Laser technology) के निर्माण और सुविधाओं के उन्नयन के लिए 5 करोड़ रुपये जारी किए। हाल ही में, आईएसएसएफ विश्व कप में भारत न केवल पदक तालिका में शीर्ष पर रहा, बल्कि उसने टूर्नामेंट में 15 स्वर्ण, नौ रजत, और छह कांस्य पदक जीते।

Share:

Next Post

कोरोना की नई गाइडलाइन जारी, इन 5 राज्यों में रहेगी लॉकडाउन जैसी सख्ती

Sat May 1 , 2021
नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर कहर बरपा रही है। बीते 24 घंटों में 4 लाख से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं। पिछले कई दिनों से हर दिन साढ़े 3 लाख से ज्यादा केस सामने आ रहे थे। जिसके बाद केंद्र सरकार ने राज्यों को कड़े प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिये […]