देश धर्म-ज्‍योतिष बड़ी खबर

ऐसा क्या हुआ कि पुरी के जगन्नाथ मंदिर में रोकना पड़ी आरती और महाप्रभु को कराना पड़ा स्नान


भुवनेश्वर। आज जगन्नाथ मंदिर (Jagannath temple) में मंगल आरती (Aarti ) नीति से पहले महाप्रभु (Mahaprabhu) को महास्नान (bath) कराया गया। मंदिर (temple) में खून (Blood) के छींटे पडऩे से ऐसा किया गया। आज सुबह मंदिर में सेवक घर की एक महिला की ऊंंगली दरवाजे में दब गई। इससे खून बहने लगा। इसके बाद करीब एक घंटे तक महाप्रभु को महास्नान कराया गया। इस दौरान भक्तों को भी अंदर जाने से रोक दिया गया।


जानकारी के मुताबिक, 5 बजकर 21 मिनट पर सिंहद्वार खुलने के बाद पहले सेवक घर की महिलाओं ने महाप्रभु के दर्शन करने के लिए मंदिर में प्रवेश किया, क्योंकि मंगल आरती के समय केवल सेवक, उनकी पत्नी या परिवार के सदस्य ही भीतरी बेढ़ा तक जाते हैं। हालंकि, आज सुबह सेवक घर की एक महिला ने जगन्नाथ मंदिर के दरवाजे के समीप हाथ रखा था तभी उसकी ऊंगली दब गई। परिणामस्वरूप भीतरी बेढ़ा के समीप धुकुड़ी द्वारा के निकट उनकी ऊंगली से खून निकल आया।

मंगल आरती से पहले कराया गया महास्नान
ऐसे में मंगल आरती से पहले नीति को रोककर करीबन एक घंटे तक महाप्रभु का महास्नान कराया गया। इस समय मंदिर में भक्तों के प्रवेश को रोक दिया गया। महास्नान के बाद गभा वेश एवं फिर मंगल आरती की गई। ऐसे में मंदिर की रीति नीति में आज देरी हुई है।
आम भक्तों के कुछ समय के लिए दर्शन पर रोक लगाए जाने के कारण मंदिर के बाहर भक्तों की भारी भीड़ जमा हो गई थी। महास्नान नीति सम्पन्न होने के बाद ही भक्तों को अंदर जाने की इजाजत दी गई।

Share:

Next Post

बिना चुनाव सूरत सीट हारने के बाद अब एक्टिव हुई कांग्रेस, EC से फिर चुनाव प्रक्रिया शुरू कराने की रखी मांग

Tue Apr 23 , 2024
नई दिल्ली. सूरत (Surat ) लोकसभा सीट पर बीजेपी (BJP)  के उम्मीदवार मुकेश दलाल (Mukesh Dalal) की निर्विरोध जीत विवादों में है. कांग्रेस (Congress) के उम्मीदवार का नामांकन रद्द होने के बाद बाकी बचे 8 उम्मीदवारों के अपनी उम्मीदवारी वापिस लेने के बाद मुकेश दलाल निर्विरोध चुन लिए गए थे. अब इस मामले में कांग्रेस […]