जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

गुरु चलेंगे अब उल्टी चाल, इन 5 राशियों पर दिखेगा उलट प्रभाव

डेस्‍क। धन संपन्नता, ज्ञान और विवेक के कारक माने जाने वाले बृहस्पति ग्रह 20 जून 2021 को कुंभ राशि में वक्री चाल से गोचर करने जा रहे हैं। ज्योतिष शास्त्र में गुरु की चाल का बड़ा महत्व बताया गया है। इनकी चाल का सभी 12 राशियों पर अलग अलग प्रभाव होता है। गुरु कुंभ राशि में सितंबर के मध्य तक वक्री स्थिति में रहेंगे ऐसे में इन 5 राशियों पर गुरु के वक्री चाल का प्रतिकूल असर दिखेगा। देखिए गुरु की वक्री चाल से किन-किन राशियों को परेशानी होगी।

मेष राशि : ज्ञान के कारक ग्रह बृहस्पति आपके एकादश भाव में वक्री गति करेंगे। यह लाभ का भाव कहा जाता है, इस भाव में गुरु के वक्री होने से आपको लाभ प्राप्त करने में परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। इस समय आपको निवेश करते समय बहुत सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है। उधार के लेन-देन से भी इस राशि के जातकों को बचना चाहिए। इस समय उपाय के तौर पर आपको बृहस्पतिवार के दिन पीले वस्त्र धारण करने चाहिए।

मिथुन राशि : आपके नवम भाव में गुरु ग्रह वक्री गति करने वाले हैं। यह धर्म, अध्यात्म और भाग्य का भाव कहा जाता है। इसलिए इस दौरान आपको बहुत मेहनत करने पर ही शुभ फलों की प्राप्ति होगी। पिता के साथ वार्तालाप करते समय आपको अपने शब्दों को सोच समझकर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है, नहीं तो मनमुटाव की स्थिति बन सकती है। इस दौरान उपाय के तौर पर आपको अपने गुरुजनों का आदर करना चाहिए और अपने पिता की सेवा करनी चाहिए।

सिंह राशि : आपके सप्तम भाव में गुरु ग्रह के वक्री गति करने के कारण दांपत्य जीवन में आपको परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। गुरु को वैवाहिक जीवन का कारक माना गया है इसलिए इसके वक्री होने से जीवनसाथी के साथ आपके मतभेद हो सकते हैं। इस दौरान अपनी भावनाओं को बहुत सोच समझकर अपने जीवन साथी के सामने व्यक्त करें। इसके साथ ही उपाय के तौर पर आप बृहस्पतिवार के दिन पीली वस्तुओं का दान कर सकते हैं।

धनु राशि : धनु राशि का स्वामी ग्रह बृहस्पति ही है, इसलिए इनकी वक्री अवस्था में होने के कारण इस राशि के लोगों को कुछ परेशानियां आ सकती हैं। इस दौरान धनु राशि के लोग अपनी बातों को स्पष्टता से व्यक्ति करने में परेशानी महसूस कर सकते हैं। साहस और पराक्रम की भी इनमें कमी देखी जा सकती है। पारिवारिक जीवन में अपने छोटे भाई-बहनों के साथ मनमुटाव की संभावना है। जीवन में सकारात्मकता के लिए धनु राशि के लोगों को बृहस्पतिवार के दिन केले के वृक्ष की पूजा करनी चाहिए।

मीन राशि : शुभ कार्यों पर खर्च अधिक होगा। बनते कार्यों में बाधाएं आएंगी, घरेलू उलझनों का सामना करना होगा। धर्म-कर्म में रुचि लेने से तनाव में कमी ला सकते हैं। शुभ कार्यों से यात्रा का योग भी बनेगा।

Next Post

सिंधिया-मुकुल रॉय बनेंगे मंत्री

Fri Jun 11 , 2021
देश से लेकर प्रदेश तक राजनीतिक उठापटक सोनवाल, अनुप्रिया को भी मिल सकता है मौका…जदयू भी होगी सरकार में शामिल नई दिल्ली।  केन्द्रीय मंत्रिमंडल (Union Cabinet) में राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia), असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल, मुकुल रॉय (Mukul Roy) और अनुप्रिया पटेल को शामिल किया जा सकता है। इन सभी को […]