देश मध्‍यप्रदेश

ज्ञानवापी के ASI सर्वे की रिपोर्ट पर मंत्री प्रहलाद पटेल की प्रतिक्रिया, कहा- ‘राम जन्मभूमि का रास्ता भी…’

भोपाल: उत्तर प्रदेश के वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi) की भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (ASI) सर्वे रिपोर्ट की कॉपी हिंदू पक्ष और मुस्लिम पक्ष को दी गई है. इस सर्वे रिपोर्ट में तहखानों से सनातन धर्म से जुड़े सबूत मिलने का दावा किया जा रहा है. ऐसे में ज्ञानवापी मामले में चल रहे अटकलों के बीच भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण(ASI) की रिपोर्ट पर मध्य प्रदेश सरकार में मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल (Prahlad Singh Patel) ने अपना बयान दिया है.


प्रह्लाद सिंह पटेल ने एएनआई से बातचीत करते हुए कहा कि ‘ASI देश की वह संस्था है जिसकी प्रतिष्ठा देश के बाहर भी है. अगर कही पुरातत्व से संबधित या रिसर्च की जरूरत पड़ती है, तो हमारे रिटायर्ड अफसरों को विदेशों में बुलाया जाता है. इसलिए मुझे लगता है कि ASI की रिपोर्ट के अपने मायने हैं. साथ ही न्यायालय ने जो रास्ता तय किया है, उस पर बिना किसी टिप्पणी के हमें विश्वास करना चाहिए. राम जन्मभूमि का रास्ता भी उसी आधार पर निकला था, तो अभी अनुमान लगाना ठीक नहीं होगा.’

बता दें एएसआई सर्वे रिपोर्ट की कॉपी 839 पन्ने की है, ASI सर्वे ज्ञानवापी में 92 दिनों तक चला था. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस सर्वे रिपोर्ट में स्वस्तिक के निशान, नाग देवता के निशान, कमल पुष्प के निशान, घंटी के निशान, ओम लिखा हुआ निशान, टूटी हुई विखंडित हिंदू देवी देवताओं की मूर्तियां भारी संख्या में मिली हैं. इसके साथ ही मंदिर के टूटे हुए खंभों के अवशेष मिले हैं. वहीं GPRS द्वारा जो सर्वे हुआ है उसमें विखंडित शिवलिंग मिले हैं.

Share:

Next Post

उज्जैन में BJP नेता और उनकी पत्नी की हत्या पर कमलनाथ की प्रतिक्रिया, कहा- 'ये घटनाएं प्रदेश की हालात...'

Sat Jan 27 , 2024
उज्जैन: मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव (Mohan Yadav) के गृह जिले उज्जैन (Ujjain) से एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है. यहां एक बीजेपी (BJP) नेता और उनकी पत्नी की हत्या कर दी गई है. दोनों के शव उनके घर में ही मिले हैं. जानकारी के अनुसार यह घटना देवास रोड स्थित पिपलोदा […]