बड़ी खबर

दिल्ली में पराली से लगातार बढ़ रहा है प्रदूषण, क्या फिर लागू होगा ऑड-ईवन?


नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में ठंड शुरू होते ही एक बार फिर बढ़ते प्रदूषण (Delhi Pollution) की आहट आ रही है। शनिवार को पराली की वजह से पैदा हुए पीएम 2.5 के स्तर में इस सीजन में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी दर्ज की गई। इस Pollution में 19 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई। पड़ोसी राज्यों में शुक्रवार को 882 जगहों पर पराली जलाने की घटनाओं की पहचान की गई तो वहीं गुरुवार को यह संख्या 583 थी। panjaab और hariyaana की तरफ से आने वाली हवाएं अपने साथ बड़ी मात्रा में प्रदूषण ला रही हैं। हवा की गति कम होने की वजह से यह दिल्ली शहर के ऊपर आकर ठहर जाता है। बुधवार को पराली की वजह से बनने वाले पीएम 2.5 का स्तर दिल्ली की हवा में केवल 1 प्रतिशत था जो कि गुरुवार को बढ़कर 6 प्रतिशत हो गया और शुक्रवार को यही 18 फीसदी तक पहुंच गया। 2019 में यह स्तर सबसे ज्यादा 44 प्रतिशत तक पहुंचा था।

फिर लौट सकता है Odd-even
राजधानी को gais chaimbar बनने से बचाने के लिए एक बार फिर यहां ऑड ईवन लागू हो सकता है। एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि प्रदूषण को कम करने के लिए लगातार बैठकें हो रही हैं। हालांकि Odd-even की स्कीम पर अभी कोई खास चर्चा नहीं हुई है। लोगों को जागरूक करने के साथ ही कुछ नियमों को सख्ती से लागू करने की जरूरत है। इसके लिए ट्रांसपोर्ट सिस्टम में भी सुधार किया गया है।

यह है थोड़ी राहत की बात
राजधानी वालों के लिए थोड़ी सी राहत की बात है। 20 अक्टूबर तक प्रदूषण बेहद खराब स्थिति में नहीं जाएगा। मौसम और हवाओं की वजह से यह बदलाव आया है। हालांकि पराली के धुएं ने शनिवार को भी राजधानी को 19 प्रतिशत तक प्रदूषित किया है। शनिवार की सुबह राजधानी का एयर इंडेक्स करीब 254 के आसपास दर्ज हुआ था। इसके बाद इसमें बढ़ोतरी होती गई।

सीपीसीबी के एयर बुलेटिन के अनुसार, राजधानी का एक्यूआई 287 दर्ज हुआ। इसके अलावा, बहादुरगढ़ 224, बल्लभगढ़ 283, भिवाड़ी 329, फरीदाबाद 295, गाजियाबाद 289, ग्रेटर नोएडा 330 और नोएडा में यह 309 दर्ज हुआ। एनसीआर के कुछ शहर शनिवार को बेहद खराब स्थिति में रहे। Experts के अनुसार, अभी प्रदूषण का मिजाज इसी तरह उतार-चढ़ाव का बना रहेगा। हवाएं इसकी वजह हैं। इनकी रफ्तार में कभी कुछ तेजी आ रही है और अभी यह ठहर जा रही है।

सफर (SAFAR) के पूर्वानुमान के अनुसार, प्रदूषण शनिवार को खराब स्थिति में बना रहा। दिन के समय इसके स्तर में कुछ बढोतरी हुई। रविवार को भी मौसम ऐसा ही रहेगा। इसके बाद 19 और 20 अक्टूबर में इसमें कुछ सुधार होने की उम्मीद है, लेकिन यह खराब स्थिति में ही बना रहेगा। वहीं दूसरी तरफ हरियाणा, पंजाब में पराली जलाने के मामले बढ़ गए हैं। बीते 24 घंटों के दौरान पराली जलाने की 882 घटनाएं सैटेलाइट इमेज में सामने आई हैं। पीएम 2.5 को बढ़ाने में पराली की हिस्सेदारी शनिवार को 19 प्रतिशत तक रही।

गुलाबी ठंड की दस्तक
सुबह और शाम गुलाबी ठंड ने दस्तक दे दी है। दिन का मौसम भी इस हफ्ते से बदलना शुरू हो जाएगा। शनिवार को न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री दर्ज हुआ, जो इस सीजन में सबसे कम रहा। मौसम विभाग के अनुसार, शनिवार को अधिकतम तापमान 35 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 3 डिग्री अधिक है, लेकिन न्यूनतम तापमान महज 16.8 डिग्री पर पहुंच गया, जो सामान्य से तीन डिग्री कम है। लोदी रोड का तापमान 16.2 डिग्री रहा। रविवार को अधिमतम तापमान 35 और न्यूनतम तापमान 17 डिग्री के आसपास रह सकता है। सुबह के समय हल्की धुंध नजर आ सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, मौसम में बदलाव आना अब शुरू हो गया है। अधिकतम तापमान 22 अक्टूबर तक 33 डिग्री पर पहुंच सकता है। 19 से 23 अक्टूबर के बीच आंशिक तौर पर बादल देखने को मिल सकते हैं, लेकिन बारिश की कोई संभावना नहीं है। हवाओं की गति 5 से 15 किलोमीटर प्रति घंटे के आसपास पूरे हफ्ते में दर्ज हो सकती है।

Share:

Next Post

ट्रम्प को पूरा भरोसा अमेरिकन राष्‍ट्रपति चुनाव में वे ही जीतेंगे

Sun Oct 18 , 2020
वाशिंगटन । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने मिशीगन में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि उन्हें नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव (presidential election) में जीत की पूरी उम्मीद है और वह आगे भी जीतते रहेंगे। उन्‍होंने कहा कि मेरा ईमानदारी से ऐसा मानना है कि हमें चुनाव के […]