मनोरंजन

साउथ vs बॉलीवुड पर Anil Kapoor भी दे चुके बड़ा बयान, कहा था- बॉम्बे में ऐसे लोग हैं, जो साउथ को…

मुंबई। बॉलीवुड के एवर ग्रीन एक्टर अनिल कपूर ने अपने अभिनय से लोगों के दिलों में राज किया है। आज भी उनके फैंस उनके अभिनय की तारीफ करते नहीं थकते हैं। यही नहीं, अनिल कपूर के फैंस नॉर्थ इंडिया से लेकर साउथ इंडस्ट्री तक फैले हुए हैं, जिसकी बड़ी वजह यह है कि अनिल कपूर ने अपने करियर की शुरुआत साउथ इंटस्ट्री से की थी। आज जब बॉलीवुड वर्सेज साउथ की बहस बहुत जोरों से चल रही है। अनिल ने 35 साल पहले 1987 में एक इंटरव्यू में इस मुद्दे पर बात की थी।

हाल ही में, अनिल कपूर ने एक डिस्कशन शो में हिस्सा लिया था। यहां साउथ बनाम बॉलीवुड पर चर्चा हुई। साथ ही, यह सवाल भी उठा कि जहां साउथ में एक्टर्स का स्टारडम अब भी बना हुआ है और उन्हें जैसे पूजा जाता है। बॉलीवुड में उस तरह का स्टारडम धीरे-धीरे खत्म हो रहा है। इस सवाल के जवाब में अनिल ने कहा, ‘आपको सच बताऊं तो, मैं इतनी गहराई से नहीं सोचता हूं। इस विषय पर बात करने के लिए मैं सही आदमी नहीं हूं।’ अनिल के जवाब से वहां मौजूद सभी कलाकार हंस पड़े।


इस डिस्कशन के दौरान अनिल ने साउथ बनाम बॉलीवुड के विषय जरूर चुप्पी साध ली, लेकिन 35 साल पहले उन्होंने एक इंटरव्यू में इस मुद्दे पर अपनी राय रखी थी। उन्होंने कहा था, ‘बॉम्बे में ऐसे लोग हैं, जो साउथ की फिल्मों को कमतर समझते हैं, लेकिन एक तरह से आप कह सकते हैं कि साउथ की फिल्मों ने पूरे भारत में लोगों को एंटरटेन किया है। इन्हें भले क्रूड कहा जाता हो, लेकिन वे सबको पसंद आने वाली फिल्में होती हैं।’

अनिल ने आगे कहा था, ‘लोग भले ही साउथ की फिल्मों का मजाक बनाते हों, लेकिन इनका ऑडियंस बेस बहुत बड़ा होता है।’ आज जिस तरह साउथ फिल्में देश भर में राज कर रही है, उसकी भविष्यवाणी सी करते हुए अनिल ने कहा था, ‘साउथ की फिल्में इंटेलिजेंट लोग बनाते हैं। वे बेसिक फिल्में बनाते हैं, लेकिन ऐसी फिल्में होती हैं जो देश के अनपढ़ लोगों को भी समझ आती है। इस चर्चा में अनिल कपूर के अलावा आयुष्मान खुराना, राजकुमार राव जैसे कलाकार थे। वहीं, साउथ इंडस्ट्री से ऋषभ शेट्टी और दुलकर सलमान भी शरीक हुए।

Share:

Next Post

तालिबानी हुकूमत के खिलाफ महिलाओं का आक्रोश, विश्वविद्यालय बैन के बाद काबुल में प्रदर्शन

Sat Dec 24 , 2022
नई दिल्ली। अफगानिस्तान में तालिबान शासन के बाद से महिलाओं को कई तरह के प्रतिबंधों का सामना करना पड़ रहा है। अब तालिबानी हुकूमत ने उनके लिए उच्च शिक्षा पर रोक लगा दी है। इसके बाद से यहां की महिलाओं में आक्रोश है। सरकार के फैसले के खिलाफ बड़े स्तर पर महिलाएं काबुल में विश्वविद्यालय […]