ब्‍लॉगर

तालिबानी नहीं, अफगानियों की चिंता

– डॉ. प्रभात ओझा अफगानिस्तान पर एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की बातचीत बुधवार 20 अक्टूबर को होने जा रही है। बैठक रूस ने बुलाई है और उसमें अफगानिस्तान की सत्ता पर काबिज तालिबान भी रहेगा। रूस ने भारत के साथ इस बातचीत में अमेरिका, पाकिस्तान और चीन को भी बुलाया है। दरअसल, अफगानिस्तान में इस साल […]

ब्‍लॉगर

प्लास्टिकः बिहार से सीखे पूरा भारत

– डॉ. वेदप्रताप वैदिक बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कमार ने कुछ ऐसे साहसिक कदम उठाए हैं, जिनका अनुकरण देश के सभी मुख्यमंत्रियों को करना चाहिए। उन कदमों को दक्षिण एशिया और मध्य एशिया के पड़ोसी देश भी उठा लें तो हमारे इन सभी देशों की अर्थव्यवस्था और स्वास्थ्य व्यवस्था में अपूर्व सुधार हो सकता है। […]

ब्‍लॉगर

भारत की आईटी कंपनियों की कामयाबी के पीछे का सच

– आर.के. सिन्हा माफ करें, पर यह सच है कि अब भारत में सकारात्मक खबरों को लेकर कोई बहुत चर्चा नहीं होती। वैसी ख़बरें कभी-कभी सामने आती हैं और फिर गायब हो जाती हैं। अब नेगटिव समाचारों पर अतिरिक्त फोकस का सिलसिला चालू हो गया है और सच कहें तो बढ़ता ही जा रहा है। […]

ब्‍लॉगर

दादाजीः मानव और समाज निर्माण के प्रणेता

– डॉ. हितेश देश के अग्रणी महापुरुषों में शामिल पांडुरंग शास्त्री जी आठवले ने सामाजिक और मानव निर्माण की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किया। उन्होंने लोगों के समक्ष निष्काम भाव से कर्म का श्रेष्ठ उदाहरण प्रस्तुत कर लाखों लोगों और कई पीढ़ियों को प्रेरित किया। दादा के नाम से मशहूर पांडुरंग शास्त्रीजी आठवले ने श्रीमदभागवत […]

ब्‍लॉगर

संघ का दशहरा प्रबोधन: जनसंख्या असंतुलन पर तेज हो विमर्श

– प्रवीण गुगनानी विश्व के प्रसिद्ध कूटनीतिज्ञ, राजनयिक व ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल ने कहा था कि ‘यदि अपने देश की दीर्घकालिक समस्याओं को सुलझाना है तो, इतिहास पढ़िए, इतिहास पढ़िए, इतिहास पढ़िए; इतिहास में ही राज्य चलाने के सारे रहस्य छिपे हैं।’ भारत के संदर्भ में यह कहा जा सकता है कि […]

ब्‍लॉगर

आधी आबादीः देश में स्व-रोजगार का मुख्य आधार बनकर उभरे स्व-सहायता समूह

– डॉ. मयंक चतुर्वेदी महिला सशक्तिकरण की दिशा में केंद्र सरकार तमाम प्रयास कर रही है। जिसमें बड़ा प्रयास मोदी सरकार का स्व-सहायता समूहों के गठन एवं देश की आधी आबादी को स्थानीय स्तर पर इनके माध्यम से स्व-रोजगार उपलब्ध करा देना है। आंकड़ों को देखें एवं इस दिशा में सरकार द्वारा किए जा रहे […]

ब्‍लॉगर

दो बच्चों की नीति जरूरी

– डॉ. वेदप्रताप वैदिक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के मुखिया मोहन भागवत ने इस वर्ष दशहरे पर जो भाषण दिया, उसमें ज्यादा ध्यान जनसंख्या के मुद्दे पर गया। उसकी चर्चा सबसे ज्यादा हुई। इस मुद्दे को लोगों ने ज्यादा तूल दिया कि उन्होंने अल्पसंख्यकों की बढ़ती आबादी पर आक्षेप क्यों किया ? यह आक्षेप तो इसीलिए […]

ब्‍लॉगर

ये पॉलिटिक्स है प्यारे

खूब चर्चा है पटाखों के लाइसेंस की इस बार वे भाजपाई उपकृत हो गए हैं, जो लंबे समय से पटाखों के लाइसेंस की डिमांड कर रहे थे। जो खबरें चल रही हैं, उसमें एक-एक विधायक को दो-दो लाइसेंस रिकमेंट करने के लिए कहा गया था। बताया जा रहा है कि पटाखे बेचने के कुल 16 […]

ब्‍लॉगर

इजरायल पहुंचे जयशंकर, लिखी जाएगी संबंधों की नई इबारत

-डॉ मयंक चतुर्वेदी इजरायल और भारत के बीच रिश्ते अब नए दौर में पहुंच चुके हैं। भारत और इजरायल के बदलते संबंधों और समीकरणों में पिछले कुछ सालों में दिलचस्प बदलाव आया है। दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों की स्थापना की 25वीं वर्षगांठ को चिह्नित करते हुए भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इजराइल […]

ब्‍लॉगर

रक्षा निर्माण को मिली नयी उड़ान

– राजनाथ सिंह “देह शिव बर मोहे ईहे, शुभ कर्मन ते कबहूं न डरूं” किसी भी बड़े सुधार को शुरू करने और पूरा करने के लिए बहुत धैर्य, प्रतिबद्धता तथा संकल्प की आवश्यकता होती है। हितधारकों की प्रतिस्पर्धी आकांक्षाओं को पूरा करते हुए यथास्थिति में बदलाव के लिए सूक्ष्म संतुलित प्रयास की आवश्यकता है। प्रधानमंत्री […]