खेल

गौतम गंभीर ही लेंगे राहुल द्रविड़ का स्‍थान, टीम इंडिया का नया हेड कोच बनना तय! इस दिन होगा ऐलान

नई दिल्‍ली: जैसे-जैसे टी20 वर्ल्‍ड कप 2024 का अंत करीब आ रहा है. भारत के नए कोच को लेकर चर्चाएं भी तेज होने लगी हैं. मौजूदा कोच राहुल द्रविड़ का कार्यकाल इस वर्ल्‍ड कप के बाद खत्‍म हो रहा है. ऐसे में बीसीसीआई जोर-शोर से नए कोच की तलाश में जुटी है. खबर के मुताबिक भारत के नए कोच के रूप में बाएं हाथ के पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर के नाम पर मुहर लगना तय है. जून के अंत तक इसका औपचारिक ऐलान कर दिया जाएगा.

गौतम गंभीर बीते कुछ सालों से आईपीएल में बतौर कोच शानदार काम कर रहे हैं. उनकी लीडरशिप में ही इस सीजन कोलकाता नाइटराइडर्स चैंपियन बना है. पिछले साल तक वो लखनऊ सुपर जायंट्स का हिस्‍सा थे. तब लखनऊ की टीम भी गंभीर की लीडरशिप में अच्‍छा खेल दिखा रही थी. यही वजह है कि इस वक्‍त गौतम गंभीर का नाम भारत के मुख्‍य कोच के पद के लिए काफी ज्‍यादा जोर पकड़ रहा है.


रिपोर्ट में दावा किया गया कि गौतम गंभीर भारत का मुख्‍य कोच बनने को राजी हो गए हैं. उन्‍होंने बीसीसीआई से यह अनुरोध किया है कि वो कोचिंग स्‍टाफ की अपनी टीम को साथ लेकर आना चाहते हैं. मौजूदा वक्‍त में भारत के बैटिंग कोच विक्रम राठोड़ हैं. पारस म्‍हाम्‍ब्रे के कंधों पर बॉलिंग कोच की जिम्‍मेदारी है. वहीं, टी दिलीप टीम इंडिया के फील्डिंग कोच हैं.

गौतम गंभीर पहले ही टीम इंडिया के कोचिंग बनने की इच्‍छा जता चुके हैं. उन्होंने कहा था, ‘मैं भारतीय टीम को कोचिंग देना पसंद करूंगा. अपनी राष्ट्रीय टीम को कोचिंग देने से बड़ा कोई सम्मान नहीं है. आप 140 करोड़ भारतीयों और दुनिया भर के लोगों का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं. 140 करोड़ भारतीय ही भारत को विश्व कप जिताने में मदद करेंगे. अगर हर कोई हमारे लिए प्रार्थना करना शुरू कर दे और हम खेलना और उनका प्रतिनिधित्व करना शुरू कर दें, तो भारत विश्व कप जीत जाएगा. सबसे महत्वपूर्ण बात निडर होना है.’

Share:

Next Post

जेलेंस्की से मिलाया हाथ, मगर पुतिन से दोस्ती रहेगी पक्की; मोदी ने कर दिया इंतजाम

Sun Jun 16 , 2024
नई दिल्ली: रूस-यूक्रेन जंग बार-बार भारत की परीक्षा लेती रही है. इस जंग में एक ओर इंडिया का जिगरी दोस्त रूस है तो दूसरी ओर यूक्रेन. यूक्रेन दुनिया से युद्ध खत्म कराने और शांति की गुहार लगा रहा है. भारत शुरू से विश्व शांति का पक्षधर रहा है. रूस-यूक्रेन जंग में भी भारत ने वार्ता […]