बड़ी खबर

‘उसने धर्म परिवर्तन से…’ नेहा के पिता ने बताई हत्या की वजह, CID करेगी हत्याकांड की जांच

बेंगलुरु: कर्नाटक के हुबली में नेहा नाम की युवती की हत्या का मामले को लेकर आरोप-प्रत्यारोप और सियासी बयानबाजी का दौर जारी है. एक तरफ सत्ताधारी कांग्रेस इसे प्रेम संबंध में आई दरार का नतीजा बता रही है तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी इसे लव जिहाद का मामला बताकर पुलिस प्रशासन पर सवाल उठा रही है. इस बीच मृतका के पिता कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमठ ने सोमवार को दावा किया कि उसकी हत्या इसलिए की गई क्योंकि “उसने धर्म परिवर्तन से इनकार कर दिया था’.

हुबली में केएलई टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी में मास्टर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन के प्रथम वर्ष की छात्रा नेहा हीरेमथ की उसके पूर्व सहपाठी फैयाज ने उसके कॉलेज में दिनदहाड़े हत्या कर दी थी. इस हत्याकांड की पूरे राज्य में व्यापक निंदा हुई थी.


नेहा के पिता एवं हुबली-धारवाड़ नगर निगम के कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमथ ने कहा, ‘वह शरणु पद्धति के रूप में एक सच्ची भक्त थीं. उन्होंने उस पर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव डाला. चूंकि वह धर्म परिवर्तन के लिए सहमत नहीं हुई तो उसकी हत्या कर दी गई.’

उधर इस मामले को केंद्रीय जांच ब्यूरो को सौंपने की मांग के बीच, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि मामला सीआईडी को दिया जाएगा और एक विशेष अदालत द्वारा इसकी सुनवाई की जाएगी.

कर्नाटक के गृह मंत्री जी परमेश्वर ने दावा किया कि इस मामले का “राजनीतिकरण” कर दिया गया है. जी परमेश्वर ने कहा, ‘इस मामले का राजनीतिक इस्तेमाल किया जा रहा है. वे मेरे और सीएम के बारे में बयान दे रहे हैं. इस केस में कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी चाहे वह हिंदू हो या मुस्लिम. वे कहते हैं कि आरोपी मुस्लिम है, इसलिए हम नरम रुख अपना रहे हैं, लेकिन आरोपी तो आरोपी है और कानून के मुताबिक उसे सजा भी मिलेगी. पुलिस ने उसे एक घंटे में गिरफ्तार कर लिया.’

Share:

Next Post

झारखंड: 40 करोड़ की लागत से बन रहा नगर निगम का भवन भर-भरा कर गिरा, मची अफरातफरी

Mon Apr 22 , 2024
गिरिडीह: झारखंड के गिरिडीह शहर के ऑफिसर कॉलोनी में करीब 40 करोड़ रुपये की लागत से बन रहे नगर निगम के नए भवन का सामने का हिस्सा पूरी तरह से गिर गया है. घटना में मौके पर काम कर रहे करीब दो दर्जन से अधिक मजदूर बाल-बाल बच गए. भवन का सामने का हिस्सा गिरने […]