बड़ी खबर

‘खरगे ने अनजाने में किया मोदी-शाह के गेमप्लान का खुलासा’, कांग्रेस का BJP पर बड़ा आरोप

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे द्वारा एक जनसभा में अनुच्छेद 370 की जगह 371 बोलने पर विवाद बढ़ता जा रहा है। आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। पहले जहां केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने खरगे को आड़े हाथ लिया। वहीं, अब कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने शाह पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष ने अनजाने में मोदी-शाह के गेमप्लान का खुलासा कर दिया।

हाल ही में राजस्थान के चुरु में एक जनसभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने अनुच्छेद 370 का जिक्र किया था, लेकिन उनकी जुबान फिसल गई। खरगे के मुंह से 370 की जगह 371 निकल गया था। दरअसल कांग्रेस अध्यक्ष कह रहे थे, ‘अमित शाह यहां आकर कहते हैं कि उन्होंने कश्मीर में अनुच्छेद 371 हटा दिया। अरे भई यहां के लोगों को इससे क्या वास्ता है? ठीक है आप ये बातें कश्मीर में जाकर बोल सकते हैं, जम्मू में बोल सकते हैं लेकिन यहां इसका कोई मतलब नहीं।’


केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष के इस बयान को आड़े हाथों लिया और कह दिया था कि यह सुनना बेहद शर्मनाक है। उन्होंने एक्स पर लिखा था, ‘मैं कांग्रेस पार्टी को याद दिलाना चाहूंगा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और प्रत्येक राज्य और नागरिक का जम्मू-कश्मीर पर अधिकार है, जैसे जम्मू-कश्मीर के लोगों का शेष भारत पर अधिकार है। कांग्रेस को यह नहीं पता कि कश्मीर में शांति और सुरक्षा के लिए राजस्थान के कई वीर सपूतों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। लेकिन यह सिर्फ कांग्रेस नेताओं की गलती नहीं है। भारत के विचार को न समझ पाने के लिए अधिकतर कांग्रेस पार्टी की इटालियन संस्कृति ही दोषी है। ऐसे बयानों से हर उस देशभक्त नागरिक को ठेस पहुंचती है जो देश की एकता और अखंडता की परवाह करता है।’

शाह के आलोचना पर पलटवार करते हुए कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने कहा, ‘जयपुर में एक भाषण के दौरान खरगे जी की जुबान फिसलने से उन्होंने गलती से कह दिया था कि मोदी अनुच्छेद 371 को समाप्त करने का श्रेय लेते हैं। उनका मतलब साफ तौर पर अनुच्छेद 370 से था, लेकिन अमित शाह तुरंत कांग्रेस अध्यक्ष पर भड़क गए। हालांकि, सच्चाई यह है कि मोदी नागालैंड से संबंधित अनुच्छेद 371-ए , असम से संबंधित अनुच्छेद 371-बी, मणिपुर से अनुच्छेद 371-सी, सिक्किम से संबंधित अनुच्छेद 371-एफ, मिजोरम से संबंधित अनुच्छेद 371-जी और अरुणाचल प्रदेश से संबंधित अनुच्छेद 371-एच को बदलना चाहते हैं।’

कांग्रेस नेता ने आगे कहा, ‘संयोग से खरगे पूर्ववर्ती हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र से संबंधित अनुच्छेद 371-जे के लिए अकेले जिम्मेदार थे, जिसे उन्होंने डॉ. मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री बनने के बाद पूरा किया। अमित शाह इस बात से भड़क गए कि कांग्रेस अध्यक्ष ने ‘अनजाने में’ अनुच्छेद 371 पर मोदी-शाह के गेमप्लान का खुलासा कर दिया। कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अब अनुच्छेद 370 को रास्ते से हटा दिया गया है।

Share:

Next Post

मोदी तीसरी बार बने PM, कर्नाटक के इस शख्स ने काली मां को काटकर चढ़ाई उंगली

Sun Apr 7 , 2024
सोनारवाडा (Sonarwada)। कर्नाटक (Karnataka) में एक व्यक्ति ने, जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कट्टर प्रशंसक कहा जाता है, पीएम मोदी (PM Modi) के तीसरे कार्यकाल के लिए प्रार्थना करते हुए अपने बाएं हाथ की तर्जनी उंगली काट कर देवी काली को बलि के रूप में चढ़ा दी. यह अनोखी घटना शनिवार को सामने आई. यह […]