बड़ी खबर राजनीति

महाराष्ट्रः शिवसेना ने खेला 12 बागियों की सदस्यता रद्द कराने का दांव, शिंदे बोले- हम भी जानते हैं कानून

मुंबई। महाराष्ट्र (maharashtra) में राजनीतिक संकट (political crisis) के बीच शिवसेना (Shiv Sena) ने बागियों की सदस्यता रद्द (rebels membership canceled) करने का दांव खेला है। इस संबंध में शिवसेना के नव निर्वाचित ‘विधायक दल के नेता’ अजय चौधरी (Ajay Choudhary) ने विधायक दल की बैठक में शामिल न होने वाले 12 विधायकों की लिस्ट डेप्युटी स्पीकर को भेजी। चिट्ठी इन 12 बागी विधायकों के खिलाफ अयोग्य ठहराने की अपील की गई है।

शिवसेना सांसद अरविंद सावंत (Shiv Sena MP Arvind Sawant) ने बताया, “हमने डिप्टी स्पीकर (महाराष्ट्र विधानसभा) के समक्ष याचिका दायर की है और मांग की है कि 12 विधायकों की सदस्यता रद्द कर दी जानी चाहिए क्योंकि वे कल की बैठक में शामिल नहीं हुए थे। बैठक से पहले नोटिस जारी किया गया था जिसमें कहा गया था कि अगर आप बैठक में शामिल नहीं हुए तो संविधान के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कुछ नहीं आए और कुछ ने बेवजह कारण बताए।”

शिवसेना ने एकनाथ शिंदे सहित 12 नाम डिप्टी स्पीकर को भेजे हैं। ये नाम हैं- एकनाथ शिंदे, प्रकाश सुर्वे, तानाजी सावंतो, महेश शिंदे, अब्दुल सत्तारी, संदीप भुमरे, भरत गोगावाले, संजय शिरसातो, यामिनी यादव, अनिल बाबरी, बालाजी देवदास, लता चौधरी हैं।

अब इसको लेकर एकनाथ शिंदे ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर पलटवार किया है। शिवसेना के बागी विधायक एकनाथ शिंदे ने ट्वीट किया, “आप अयोग्यता के लिए 12 विधायकों के नाम बताकर हमें डरा नहीं सकते क्योंकि हम शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे के अनुयायी हैं। हम कानून जानते हैं, इसलिए हम धमकियों पर ध्यान नहीं देते हैं।” उन्होंने कहा, “हम आपके तरीके और कानून भी जानते हैं। संविधान की अनुसूची 10 के अनुसार, व्हिप का इस्तेमाल विधानसभा के काम के लिए किया जाता है, बैठकों के लिए नहीं।”

इसके अलावा शिंदे ने महाराष्ट्र विधानसभा के उपाध्यक्ष को शिवसेना विधायक दल के नेता के रूप में अपनी नियुक्ति की पुन: पुष्टि और पार्टी के मुख्य व्हिप के रूप में भरतशेत गोगावाले की नियुक्ति के संबंध में पत्र लिखा। पत्र में शिवसेना के 37 विधायकों के हस्ताक्षर हैं और पत्र की एक कॉपी डिप्टी स्पीकर नरहरि जिरवाल, राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और विधान परिषद के सचिव राजेंद्र भागवत को भेजी गई है।

महाराष्ट्र की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) गठबंधन सरकार को संकट में डालने वाले शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे ने बृहस्पतिवार को कहा कि एक ‘‘राष्ट्रीय दल’’ ने उनकी बगावत को ऐतिहासिक करार देने के साथ ही हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है।

मुंबई में शिंदे के कार्यालय की ओर से एक वीडियो जारी किया गया है, जिसमें वह गुवाहाटी के एक होटल में शिवसेना के बागी विधायकों को संबोधित कर रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि विधायक अपनी ओर से सर्वसम्मति से समूह के नेता के तौर पर शिंदे को आगे के फैसले लेने के लिए अधिकृत कर रहे हैं।

वीडियो में शिंदे कह रहे हैं, ‘‘हमारी चिंताएं और खुशियां एक समान हैं। हम एकजुट हैं और जीत हमारी होगी। एक राष्ट्रीय दल है, एक महाशक्ति…आप जानते हैं कि उन्होंने पाकिस्तान को मात दी। उस दल का कहना है कि हमने एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है और हमे हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।’’ वर्तमान में शिंदे शिवसेना के 37 बागी विधायकों और नौ निर्दलीय विधायकों के साथ गुवाहाटी में डेरा डाले हुए हैं।

Share:

Next Post

LAC पर शांति बनाए रखने के लिए गंभीरता से सोचे चीन: भारतीय राजदूत

Fri Jun 24 , 2022
बीजिंग। चीन (China) में भारतीय राजदूत प्रदीप कुमार रावत (Indian Ambassador Pradeep Kumar Rawat) ने ब्रिक्स शिखर सम्मेलन (BRICS Summit) से पहले चीनी विदेश मंत्री वांग यी (Foreign Minister Wang Yi) से मुलाकात की और सीमा क्षेत्रों में शांति बनाए रखने की गंभीरता पर जोर दिया। उन्होंने कहा, एशिया व दुनिया के नजरिये से दोनों […]