बड़ी खबर व्‍यापार

महिंद्रा एंड महिंद्रा को पहली तिमाही में 2,360.70 करोड़ रुपये का मुनाफा

-पिछले वित्त वर्ष की जून तिमाही में 331.74 करोड़ रुपये का हुआ था घाटा

नई दिल्ली। बहुराष्ट्रीय भारतीय वाहन निर्माता कंपनी (multinational Indian vehicle manufacturer) महिंद्रा एंड महिंद्रा (एम एंड एम) लिमिटेड (Mahindra & Mahindra (M&M) Limited) ने वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही (first quarter) के नतीजे का ऐलान कर दिया है। कंपनी को चालू वित्त वर्ष की 30 जून को समाप्त पहली तिमाही में 2,360.70 करोड़ रुपये का मुनाफा (Profit of Rs 2,360.70 crore) हुआ है। कंपनी को एक साल पहले की समान तिमाही में 331.74 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था।

कंपनी ने शुक्रवार को शेयर बाजारों को दी सूचना में बताया कि जून तिमाही में कंपनी का एकीकृत शुद्ध लाभ (मुनाफा) 2,360.70 करोड़ रुपये है। इससे एक साल पहले की समान तिमाही में कंपनी को 331.74 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। एमएंडएम के मुताबिक वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही में उसकी परिचालन आय बढ़कर 28,412.38 करोड़ रुपये हो गई, जबकि पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह 19,171.91 करोड़ रुपये रहा था।

कंपनी के मुताबिक पहली तिमाही के दौरान उसका कुल खर्च बढ़कर 26,195 करोड़ रुपये हो गया, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में खर्च 20,286.24 करोड़ रुपये रहा था। इसी तरह वाहन खंड की आय भी जून तिमाही में बढ़कर 12,740.94 करोड़ रुपये हो गई, जो पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 6,316.79 करोड़ रुपये रही थी। एमएंडएम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक (एमडी) और मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अनीश शाह ने जारी बयान में कहा कि वाहन और कृषि क्षेत्र के मजबूत परिणामों की वजह से हमारे समूह की सभी कंपनियों की रफ्तार बेहतर हैं।

उल्लेखनीय है कि महिंद्रा एंड महिंद्रा एक बहुराष्ट्रीय भारतीय वाहन निर्माता कंपनी है। इस कंपनी का मुख्यालय मुंबई में स्थित है। इसकी स्थापना साल 1945 में ‘महिंद्रा एंड मुहम्मद’ नाम से हुई थी, जिसको बाद में बदलकर ‘महिंद्रा एंड महिंद्रा’ कर दिया गया। महिंद्रा एंड महिंद्रा लिमिटेड, महिंद्रा समूह की एक इकाई है। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

भारतीय अर्थव्यवस्था कई झटकों के बावजूद स्थिर, धीरे-धीरे घटेगी महंगाई: दास

Sat Aug 6 , 2022
नई दिल्ली/मुंबई। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) (Reserve Bank of India (RBI)) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Governor Shaktikanta Das) ने कहा है कि गंभीर दूरगामी परिणाम डालने वाली दो अप्रत्याशित घटनाओं और कई झटकों के बावजूद देश की अर्थव्यवस्था (country’s economy) दुनिया में स्थिरता का एक द्वीप बनी हुई है। दास ने शुक्रवार को मौद्रिक […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.