बड़ी खबर

श्रीनगर में तीस से अधिक जगहों पर मोबाइल इंटरनेट सेवा ठप, तीन आतंकियों के मारे जाने के बाद उठाया कदम  

जम्मू। श्रीनगर में मुठभेड़ के दौरान तीन आतंकियों के मारे जाने के दूसरे दिन गुरुवार को तीस से अधिक जगहों पर मोबाइल इंटरनेट सेवा ठप कर दी गई है। एजेंसियों ने यह कदम उपद्रव को देखते हुए और हिंसा को रोकने के लिए उठाया है। पुलिस को पता चला था कि कुछ असामाजिक तत्व इस मुठभेड़ के बाद वीडियो प्रचारित कर लोगों को  भड़काने का काम कर रहे हैं। बुधवार को हुई मुठभेड़ के बाद कुछ स्थानीय लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया था। इसे सुरक्षा बलों ने संयम बरतते हुए उन्हें हल्के प्रतिरोध के बाद वापस भेज दिया।

इन इलाकों में बंद है मोबाइल इंटरनेट
श्रीनगर के बोरी कदल, हब्बाकदल, खनियार, एसआर गंग, एमआर गंग, जदीबल, नौशारा, फतेह कदल, करण नगर, ईदगाह, कमरवारी, सौरा, रैनावारी, बग्यास, नौहट्टा, हवल। मलरत्था, एंकर, सैयद पोरा, जम्मलत्ता, हजरतबल, नवाकदल, सफाकदल, अहमदनगर, बुशपोरा, हवल, नूरबाग, ज़कूरा, पंडाच, सैदाकदल, नगीन, हज़रतबल, जैनमार में एहतियात के तौर पर मोबाइल सेवा बंद की गई है।

कार में जा रहे थे तीनों आतंकी मारे गए 
सुरक्षाबलों ने रामबाग फ्लाईओवर के नीचे एक कार में जा रहे तीन लश्कर-ए-ताइबा के सहयोगी संगठन द रेजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) के टॉप कमांडर मेहरान यासीन शल्ला व उसके दो साथियों को मार गिराया। मेहरान श्रीनगर के ईदगाह इलाके में स्कूल में घुसकर की गई शिक्षक व महिला सिख प्रिंसिपल की हत्या में शामिल था। उसके साथ मारे गए दो अन्य आतंकियों की शिनाख्त अराफात शेख व मंजूर अहमद मीर दोनों पुलवामा निवासी के रूप में की गई है। हालांकि पुलिस ने सिर्फ दो दहशतगर्दों के ही नाम जारी किए हैं।

सुरक्षाबलों पर की थी फायरिंग 
आईजी कश्मीर विजय कुमार के अनुसार, सूचना मिली थी कि तीन आतंकी एक कार में सवार होकर जहांगीर चौक से एयरपोर्ट मार्ग की ओर जाने वाले हैं। इसकी सूचना मिलने के बाद सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष दल ने रामबाग फ्लाई ओवर के नीचे पोजीशन ले ली थी। लगभग 4.50 पर एक वैगनआर कार में तीन संदिग्ध जाते हुए दिखे। सुरक्षाबलों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो उन्होंने फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की। परंतु सतर्क सुरक्षाबलों ने व्यस्त इलाके में संयम बरतते हुए संक्षिप्त मुठभेड़ में तीनों को मार गिराया।

पहली बार भीड़भाड़ वाले इलाके में मुठभेड़ 
जिस स्थान पर मुठभेड़ हुई वह काफी भीड़भाड़ वाला इलाका है। शाम का समय होने के कारण वहां सड़क पर काफी यातायात था। सुरक्षा बलों ने सीमित और सटीक कार्रवाई करते हुए यह सफलता हासिल की। इस दौरान कुछ देर के लिए इलाके में भगदड़ की स्थिति भी बन गई। सुरक्षाबलों ने थोड़ी देर बाद ही यातायात पुन: बहाल कर दिया।

शिक्षक दीपक चंद और सिख महिला प्रिंसिपल सुपिंदर कौर की हत्या में भी शामिल
आईजी ने बताया कि मारा गया टीआरएफ कमांडर मेहरान श्रीनगर में 7 अक्तूबर 2021 को श्रीनगर के ईदगाह इलाके में  शिक्षक दीपक चंद और सिख महिला प्रिंसिपल सुपिंदर कौर की हत्या में भी शामिल था। इसके अलावा उस पर कई और निर्दोष नागरिकों की हत्या में भी शामिल होने का मामला दर्ज है। वह श्रीनगर के कनी मजार इलाके का रहने वाला है।

इस साल अब तक 143 आतंकी ढेर, कई कमांडर भी मारे गए
 इस वर्ष घाटी में हुए विभिन्न ऑपरेशनों के दौरान अभी तक 143 आतंकियों को मार गिराने में सफ लता हाथ लगी है। इनमें विभिन्न संगठनों के कई कमांडर भी हैं। लश्कर, जैश, हिजबुल, टीआरएफ समेत सभी संगठनों को भारी नुकसान पहुंचा है।

Share:

Next Post

बॉम्बे हाई कोर्ट ने नवाब मलिक को दिया झटका, अनावश्यक बयानबाजी पर लगाई रोक

Thu Nov 25 , 2021
मुंबई। समीर वानखेड़े और उनके परिवार के लिए राहतभरी खबर है। दरअसल, बॉम्बे हाई कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार में मंत्री व एनसीपी नेता नवाब मलिक को बड़ा झटका दिया है। कोर्ट ने मलिक और उनके परिवार को वानखेड़े परिवार के खिलाफ अनावश्यक बयानबाजी करने पर रोक लगाई है। कोर्ट ने साफ शब्दों ने कहा कि […]