बड़ी खबर

पहले साहिल ने की सगाई पार्टी, दोस्तों संग किया डांस, फिर Nikki Yadav को उतारा मौत के घाट

नई दिल्ली: निक्की यादव हत्याकांड की जांच कर रही दिल्ली पुलिस ने बुधवार को दावा किया कि साहिल गहलोत ने 9 फरवरी को अपने सगाई समारोह में अपने दोस्तों के साथ डांस किया और पार्टी का मजा लिया और फिर बाद में अपनी लिव-इन पार्टनर का गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी एवं उसके शरीर को फ्रिज में रख दिया.

पुलिस ने बताया कि इस घटना के अगले दिन यानी कि 10 फरवरी को 24 वर्षीय गहलोत ने शादी कर ली. निक्की यादव की कथित तौर पर 24 वर्षीय पुरुष मित्र साहिल गहलोत द्वारा गला घोंटकर हत्या कर दी गई और वह उसका शव दक्षिण-पश्चिम दिल्ली स्थित अपने ढाबे के एक रेफ्रिजरेटर में रख दिया.

23 वर्षीय निक्की यादव और उसका कथित हत्यारा लिव-इन पार्टनर साहिल गहलोत 9 फरवरी को शहर से भागने की योजना बना रहे थे. वे निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन भी गए, लेकिन गोवा के लिए टिकट पाने में असफल रहे. यह तथ्य एक जांच के बाद सामने आया है. अधिकारी के अनुसार नौ फरवरी की रात मित्रांव गांव निवासी आरोपी गहलोत युवती से मिलने उसके उत्तम नगर स्थित आवास पर गया, जहां वह अपनी छोटी बहन के साथ रहती थी.


अधिकारी ने कहा, गहलोत वहां दो-तीन घंटे रुका और बाद में दोनों निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन गए, लेकिन गोवा का टिकट नहीं मिल पाने के कारण, उन्होंने अपना प्लान बदलकर हिमाचल प्रदेश कर लिया और आईएसबीटी, कश्मीरी गेट पहुंच गए. एक सूत्र ने कहा, दोनों जब आईएसबीटी पहुंचे, तो उनके बीच बहस छिड़ गई. इसी बीच गहलोत के पास उसके घर से लगातार फोन आ रहा था। बहस बढ़ने पर वह हिंसक हो गया.

10 फरवरी को सुबह करीब 8 बजे उसने कार के अंदर डेटा केबल से निक्की का गला घोंट दिया. हत्या कश्मीरी गेट क्षेत्र के पास की गई थी. बी.फार्मा स्नातक गहलोत शव के साथ मित्रांव गांव के पास लगभग 45 किमी दूर अपने ढाबे तक गया, जहां उसने शव को एक रेफ्रिजरेटर में भर दिया और आगे बढ़ गया. आरोपी द्वारा किए गए खुलासे को पुलिस द्वारा सत्यापित किया जाना बाकी है और जांच दल पूरे मार्ग के सीसीटीवी फुटेज को खंगाल रहा है.

Share:

Next Post

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का बड़ा ऐलान- IPC और CRPC में संशोधन करेगी सरकार

Thu Feb 16 , 2023
नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को दिल्ली पुलिस स्थापना दिवस के मौके पर बड़ा ऐलान किया. उन्होंने कहा कि भारतीय दंड संहिता यानी IPC, आपराधिक प्रक्रिया संहिता यानी CRPC और एविडेंस एक्ट के कुछ कानूनों में संशोधन किया जाएगा. केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि आजादी के पहले पुलिस के काम […]