बड़ी खबर

जिस खेत में हुआ था सिद्धू मूसेवाला का अंतिम संस्कार, वहां बस गया अब ‘यादगारी’ बाजार

चंडीगढ़: दिवंगत गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या को छह माह से भी ज्यादा वक्त हो गया है और मूसा गांव में सिंगर को श्रद्धांजलि देने वालों का रोजाना तांता लगा रहता है. गांव में उनके स्मारक के पास खेत में जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया था, वहां पर एक छोटा सा बाजार स्थापित हो चुका है. जिसमें एक दर्जन से ज्यादा स्टॉल स्थापित किए जा चुके हैं. इनमें मूसेवाला से संबंधित सामान की बिक्री की जाती है. स्टॉलों के मालिक मूसेवाला के प्रशंसकों के साथ तेजी से कारोबार कर रहे हैं. सिंगर के प्रशंसक उनकी फोटो, पोस्टर, चेन और मूसेवाला से जुड़ी अन्य चीजें व टी-शर्ट खरीदते हैं.

प्रसंशकों से माता-पिता करते हैं मुलाकात
सिद्धू मूसेवाला के अंतिम संस्कार स्थल पर उनके सैकड़ों प्रशंसक रोजाना आते हैं. आम तौर पर रविवार को आने वाले प्रशंसकों की संख्या अधिक होती है. चूंकि इस दिन यहां उनकी याद में एक बड़ी सभा का आयोजन किया जाता है और मूसेवाला के माता-पिता प्रसंशकों से मुलाकात करते हैं. वे प्रशंसकों को मूसेवाला को इंसाफ दिलाने की मुहिम की जानकारी भी देते हैं और उनसे बातचीत करते हैं. दिवंगत गायक को श्रद्धांजलि देने के लिए न केवल आसपास के जिलों से, बल्कि दोआबा और माझा क्षेत्रों सहित राज्य के दूर-दराज के इलाकों और यहां तक कि हरियाणा और राजस्थान से भी लोग आते हैं.

प्रशंसक बनाते हैं वीडियो
जिस खेत में मूसेवाला का अंतिम संस्कार किया गया, वह उनके घर से कुछ ही दूरी पर है. इस तथ्य के बावजूद कि गांव में एक समर्पित श्मशान स्थल है, उनके माता-पिता ने अपने बेटे के अंतिम संस्कार के लिए खेतों को ही चुना था. आगंतुक मौके पर तस्वीरें क्लिक करते और वीडियो बनाते नजर आते हैं. मूसेवाला की 29 मई को मनसा जिले के जवाहरके गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. जिसके बाद इस मामले में पुलिस ने अदालत में चार्जशीट तो दाखिल कर दी है, लेकिन मूसेवाला के पिता हत्या के मास्टमाइंड के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

Share:

Next Post

Digital Rupee: कल से कैश की जरूरत खत्‍म! आम आदमी भी कर सकेंगे डिजिटल रुपये में भुगतान

Wed Nov 30 , 2022
नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने खुदरा स्तर पर डिजिटल रुपये (Digital Rupee) का पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च करने की घोषणा की है. आरबीआई ने मंगलवार को कहा कि वह 1 दिसंबर से रिटेल सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (CBDC) के लिए पायलट प्रोजेक्ट लेकर आएगा. आरबीआई ने कहा कि डिजिटल रुपया एक डिजिटल टोकन के […]