बड़ी खबर

पढ़ने-लिखने वाले छात्रों के मेरिट के साथ न्याय होना चाहिए – कांग्रेस सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह


पटना । कांग्रेस सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह (Congress MP Akhilesh Prasad Singh) ने कहा कि पढ़ने-लिखने वाले छात्रों के मेरिट के साथ (To the merit of the Students Studying) न्याय होना चाहिए (There should be Justice) । केवल एनटीए के डीजी को हटाने से कुछ नहीं होगा ।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) की ओर से आयोजित नीट में कथित धांधली को लेकर छात्रों में आक्रोश देखने को मिल रहा है। परीक्षा को फिर से कराने की मांग को लेकर छात्र संघर्ष कर रहे हैं। इस मामले में छात्रों को विपक्षी दलों का भी साथ मिला है। मुख्य विपक्षी कांग्रेस इस मुद्दे पर केंद्र सरकार को लगातार निशाने पर ले रही है। केंद्र सरकार ने पूरे मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी है और एनटीए के डीजी को पद से हटा दिया है। एनटीए के डीजी को पद से हटाए जाने के बाद बिहार कांग्रेस अध्यक्ष और राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने प्रतिक्रिया दी है।

अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि इसका मतलब साफ है कि परीक्षा में बड़े लेवल पर धांधली हुई है। हमलोग जो कह रहे थे, वह साबित हो गया, लेकिन केवल एनटीए के डीजी को हटाने से कुछ नहीं होगा। इस धांधली की जांच करके जितने लोगों की संलिप्तता है, उन सबको दंड देना चाहिए, ताकि फिर से इस तरह की घटना न हो। पढ़ने-लिखने वाले छात्रों के मेरिट के साथ न्याय होना चाहिए।

बिहार के मोतिहारी में पुल गिरने पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि यह हर रोज की कहानी है। जिस तरह से कॉन्ट्रैक्टर नियुक्त होते हैं और सरकार में काम कर रहे मंत्री, अफसर से उनका संबंध होगा तो इस तरह के काम होते रहेंगे, बिहार के लोगों को देखना चाहिए। बता दें कि मोतिहारी के घोड़ासहन प्रखंड में अमवा से चैनपुर स्टेशन जाने वाली सड़क पर बन रहा पुल शनिवार की रात ध्वस्त हो गया था। इस पुल को करीब डेढ़ करोड़ रुपये की लागत से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनाया जा रहा था।

Share:

Next Post

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खामोश क्यों हैं नीट पेपर लीक मामले पर ? - कांग्रेस नेता उदित राज

Sun Jun 23 , 2024
नई दिल्ली । कांग्रेस नेता उदित राज (Congress leader Udit Raj) ने कहा कि नीट पेपर लीक मामले पर (On NEET paper leak issue) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) खामोश क्यों हैं (Why is Silent) ? उन्होंने केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के इस्तीफे की भी मांग की। उदित राज ने कहा कि […]