देश

शराबबंदी कानून में करें संशोधन, भ्रष्टाचार को मिल रहा बढ़ावा, भाजपा सांसद ने की नीतीश से अपील


पटना। बिहार में एनडीए की सरकार बनने जा रही है और नीतीश कुमार फिर से मुख्यमंत्री बनेंगे, लेकिन सरकार गठन से पहले ही भारतीय जनता पार्टी के नेता निशिकांत दुबे ने नीतीश कुमार से एक अपील की है। निशिकांत दुबे की मांग है कि बिहार में शराबबंदी में संशोधन किया जाना चाहिए, क्योंकि इससे राज्य में भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है।

झारखंड से बीजेपी के सांसद निशिकांत दुबे ने अपने ट्वीट में लिखा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह है कि शराबबंदी में कुछ संशोधन करें, क्योंकि जिनको पीना या पिलाना है वे नेपाल, बंगाल, झारखंड, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ का रास्ता अपनाते हैं। बीजेपी सांसद ने कहा कि इससे राजस्व की हानि, होटल उद्योग प्रभावित तथा पुलिस, एक्साइज भ्रष्टाचार को बढ़ावा देते हैं।

आपको बता दें कि शराबबंदी नीतीश कुमार के एक बड़े फैसलों में गिना जाता है, जिसके कारण उन्हें अक्सर राज्य में महिला वोटरों का साथ मिलता आया है। हाल ही में विधानसभा चुनाव में भी महिला वोटरों ने जदयू समेत एनडीए को जमकर वोट दिया है, जिसका मुख्य कारण शराबबंदी जैसा फैसला बताया जाता है।

हालांकि, चुनावी माहौल में ही कई बार बिहार में शराब जब्त की गई है, जबकि विपक्ष ने भी शराबबंदी को फेल करार दिया था और कहा था कि इससे राज्य में भ्रष्टाचार बढ़ रहा है।

गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने पिछले चुनाव में शराबबंदी का वादा किया था और राज्य में 2016 में ये लागू की गई थी। पिछले 4 साल में शराबबंदी कानून के तहत 4 लाख लोगों की गिरफ्तारी हुई है, जबकि राज्य के राजस्व पर 4000 करोड़ रुपये तक का असर पड़ा।

इस विधानसभा चुनाव में भी शराबबंदी का मुद्दा छाया रहा था, कांग्रेस ने अपने मेनिफेस्टो में शराबबंदी कानून में संशोधन की बात कही थी। साथ ही कई राजद नेताओं ने चुनावी सभा में कहा था कि महागठबंधन की सरकार बनती है तो बिहार में फिर शराब की बिक्री शुरू होगी। राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि महिला वोटरों का महागठबंधन को वोट ना करने के पीछे यह एक बड़ा कारण रहा था।

 

Next Post

डूब प्रभावितों के पुनर्वास में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे

Fri Nov 13 , 2020
मुख्यमंत्री ने नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण की बैठक में कहा भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरदार सरोवर बांध के डूब से प्रभावितों के पुनर्वास के लिये राहत कार्यों को पूर्ण तत्परता से करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री चौहान नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण की 14वीं रिव्यू कमेटी की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। बैठक में बताया […]