खेल

कप्तान Virat Kohli दक्षिण अफ्रीका दौरे पर टीम से करेंगे Ajinkya Rahane को बाहर

नई दिल्ली। टीम इंडिया (team india) के दिग्गज बल्लेबाज (legendary batsman)  और टेस्ट टीम (test team) के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) इस वक्त अपने करियर के सबसे खराब दौर से गुजर रहे हैं। रहाणे का बल्ला एकदम खामोश है और अब उन्हें टीम में जगह दिए जाने पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। रहाणे धीरे-धीरे टीम की सबसे बड़ी कमजोरी बनते जा रहे हैं। इसी बीच रहाणे को लेकर खुद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli)  ने एक बड़ बयान दिया है। भारतीय कप्तान विराट कोहली (Indian captain Virat Kohli) ने सोमवार को यहां कहा कि अजिंक्य रहाणे की फॉर्म का वह या कोई भी अन्य आकलन नहीं कर सकता है और उन्हें अपनी स्पष्ट स्थिति का पता करने के लिए टीम के समर्थन की जरूरत है। भारत की न्यूजीलैंड (India’s New Zealand)  पर सीरीज में 1-0 से जीत के बाद भारतीय कप्तान को कुछ मुश्किल सवालों से जूझना पड़ा जिनमें से कुछ उनकी स्वयं की खराब फॉर्म से जुड़े हुए थे जिसके बारे में उन्होंने कहा कि इसे एक ही तरह से आउट होने के तरीके से नहीं जोड़ा जा सकता है। उन्होंने इसके साथ ही कहा कि इस महीने के आखिर में होने वाले दक्षिण अफ्रीकी दौरे के लिए टीम संयोजन पर जल्द ही चर्चा होगी। कोहली से जब रहाणे की खराब फॉर्म के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘मैं उनकी (रहाणे) की फॉर्म का आकलन नहीं कर सकता। कोई भी ऐसा नहीं कर सकता है। केवल एक खिलाड़ी ही जानता है कि वह किस दौर से गुजर रहा है। ’ कोहली ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि पिछले अच्छे रिकार्ड को देखते हुए रहाणे टीम में सुरक्षित महसूस करें। उन्होंने कहा, ‘इस दौर में हमें उनका समर्थन करने की जरूरत है विशेषकर तब जबकि उन्होंने अतीत में अच्छा प्रदर्शन किया है। हमारे यहां ऐसा माहौल नहीं है जहां खिलाड़ी यह सोचे कि अब क्या होगा। एक टीम के तौर पर हम ऐसी चीजों को प्रश्रय नहीं देते। ’

भारतीय कप्तान (Indian captain)  ने कहा, ‘हम खिलाड़ी जानते हैं कि टीम में क्या हो रहा है। बाहर बहुत कुछ होता रहता है और हम नहीं चाहते कि उससे हमारे खेल पर प्रभाव पड़े। हम अंजिक्य हो या कोई और टीम में हर किसी का समर्थन करते हैं। बाहर क्या हो रहा है हम उस आधार पर फैसले नहीं करते।’ कोहली ने अपना आखिरी शतक 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ कोलकाता (Kolkata) में लगाया था लेकिन पिछले दो वर्षों में वह आउट होने के अपने तरीके को लेकर किसी तरह से परेशान नहीं हुए। उन्होंने कहा, ‘हम प्रक्रिया पर कायम रहते हैं लेकिन अगर आउट होने का तरीका एक जैसा हो तो फिर उसमें सुधार की जरूरत पड़ती है। कभी कभी ये चीजें स्वाभाविक तौर पर हो जाती हैं और कभी नहीं होती है। ’दक्षिण अफ्रीका ((South Africa) के खिलाफ 26 दिसंबर से शुरू होने वाले टेस्ट सीरीज में टीम संयोजन को लेकर कोहली ने कोई खुलासा नहीं किया। कप्तान ने कहा कि आने वाले दिनों में टीम को लेकर गंभीर चर्चा होने की संभावना है। कोहली ने कहा, ‘इस मामले में चर्चा करने की जरूरत है। हम किन्हें कुछ स्थानों के लिए विशेषज्ञ मानते हैं और वे उस रूप में शामिल होंगे, इस पर मैं संवाददाता सम्मेलन में जवाब नहीं दे सकता। हमें इस पर चर्चा करके सामूहिक निर्णय लेना होगा।’ श्रेयस अय्यर, मयंक अग्रवाल और मोहम्मद सिराज सभी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ की तरह कोहली ने भी माना यह अच्छा सिरदर्द है। कोहली ने अग्रवाल की प्रशंसा की जिन्होंने पहली पारी में 150 और दूसरी पारी में 62 रन बनाए. उन्होंने कहा, ‘उसने शानदार पारियां खेली। ऐसी पारियां खेलने के लिए जज्बे की जरूरत होती है और उसके पास यह है। इस तरह की पारियों से उसे केवल एक बल्लेबाज ही नहीं एक व्यक्ति के रूप में भी आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।

Share:

Next Post

स्थानीय चुनावों में अन्य पिछड़ा वर्ग को नहीं मिलेगा 27 फीसदी कोटा, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

Mon Dec 6 , 2021
नई दिल्ली: महाराष्ट्र सरकार स्थानीय चुनावों (Maharashtra Local Election) में अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी कोटा नहीं दे सकेगी. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने इस पर रोक लगा दी है. सुप्रीम कोर्ट से महाराष्ट्र सरकार से बड़ा झटका लगा है. सरकार अब निकाय चुनाव में ओबीसी वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण (27 Percent Reservation) […]