जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

रात में इन चीजों का ज्‍यादा न करें सेवन, तेजी बढ़ेगा मोटापा


आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग मोटापे (obesity) से सबसे ज्यादा परेशान हैं. कोरोना (Corona) महामारी की वजह से लोग घरों में कैद हैं. ऐसे में बहुत सारे लोगों का वजन बढ़ने लगा है. छोटी-मोटी फिजिकल एक्टिविटी (physical activity) के अलावा घर में करने को कुछ खास नहीं है. घर से काम करने वालों का तो और बुरा हाल है. सुबह से ऑफिस शुरु होता है और रात हो जाती है. बस एक जगह पर बैठे रहने से मोटापा बढ़ने लगा है. वहीं देर तक जागने की आदत की वजह से भूख लगती है. इस चक्कर में रात में कुछ भी अनहेल्दी खाना खा लेते हैं. आपकी इस आदत से वजन तेजी से बढ़ता है. आज हम आपको ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें रात के वक्त आपको बिल्कुल नहीं खाना चाहिए.

एक्सपर्ट्स की मानें तो रात को अनहेल्दी खाने से वजन सबसे ज्यादा बढ़ता है. कुछ लोग देर रात तक खाना खाते हैं और खाने के तुरंत बाद सो जाते हैं इससे भी मोटापा बढ़ता है. फिट रहने के लिए आपको सोने से कम से कम 3 घंटे पहले डिनर कर लेना चाहिए.

रात में नहीं खानी चाहिए ये चीजें
चॉकलेट-
रात में चॉकलेट (Chocolate) खाने से भी तेजी से वजन बढ़ता है. चॉकलेट में कैफीन और शुगर मात्रा ज्यादा होता है जिससे आप मोटे हो सकते हैं. आपको अगर चॉकलेट का शौक है तो दिन में चॉकलेट खा सकते हैं डिनर के बाद परहेज़ करें.


नूडल्स-
जो लोग रात में देर तक जागते हैं उन्हें भूख लगने लगती है. ऐसे में कई लोग कुछ बनाने के झंझट की वजह से इंस्टेंट नूडल्स खा लेते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं आपकी ये आदत वजन बढ़ने (weight gain) की सबसे बड़ी वजह है. नूडल्स में कार्ब और फैट्स होता है फाइबर (fiber) बिलकुल नहीं होता है. इससे सेहत को नुकसान हो सकता है वहीं वजन भी तेजी से बढ़ता है.

फ्राइड फूड-
वजन को तेजी से बढ़ने के पीछे वजह है देर रात आपका तला भुना खाना. फ्राइड फूड में कार्ब और फैटी एसिड होता है, जिससे पेट की एसिडिटी और वजन कम हो जाता है. इसलिए पतले होने के लिए रात में हल्का खाना खाने की सलाह दी जाती है जो सुपाच्य भी हो.

सोडा-
कई लोग डिनर के बाद सोडा पीना पसंद करते हैं, इससे खाना आसानी से पच जाता है. फ्राइड फूड में हाई शुगर कंटेन्‍ट होते हैं जिसससे बेली फैट बढाने लगता है. मोटापा कम करने के लिए सोने से पहले सोडा नहीं पीना चाहिए.

नोट– उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य सूचना उद्देश्‍य के लिए है इन्‍हें किसी चिकित्‍सक के रूप में न समझें। हम इसकी सत्‍यता की जांच का दावा नही करतें कोई भी सवाल या परेशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें ।

Next Post

क्या सुवेंदु अधिकारी को बंगाल की राजनीति में मिलने वाली है बड़ी ज़िम्मेदारी?

Thu Jun 10 , 2021
कोलकाता. बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद बीजेपी को दुबारा खुद को मैदान में तैनात करने में एक महीने से ज्यादा का वक्त लग गया. 7 जून को प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने रिव्यू मीटिंग बुलाई थी. बता दें कि इस बैठक में मुकुल रॉय और राजीब बनर्जी नहीं पहुंचे थे. इस […]