जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

अनिंद्रा की समस्‍या से छुटकारा पाना चाहतें तो डाइट में शामिल कर लें ये चीजें


सेहतमंद रहने के लिए अच्छे खान-पान के साथ नींद भी जरूरी है। नींद पूरी नहीं होने पर स्वभाव में असर दिखने लगता है। साथ ही सेहत पर भी इसका असर पड़ता है। इसलिए आपको अच्छे पोषण तत्वों (nutritional elements) वाले खाने के साथ भरपूर नींद लेना भी जरूरी है। अच्छी नींद दिमाग (brain) को स्वस्थ रखने के लिए भी जरूरी है।

कुछ लोगों को बिस्तर पर जाते ही नींद आ जाती है और कुछ लोगों को घंटों नींद नहीं आने से बेचैन रहती है। ऐसे में लंबे वक्त तक नींद नहीं आने की समस्या से लोगों के स्वास्थ्य (Health) पर भी असर पड़ता है। कई बार नींद तो आती है लेकिन कच्ची नींद होने की वजह से बार-बार आंख खुलती है। आज इस लेख के माध्‍यम से हम आपको बतानें जा रहें हैं ऐसे ही उपाय जो अनिंद्र की समस्‍या से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकतें हैं । आइये जानतें हैं….

केला-
रात को केला (banana) खाने से भी अच्छी नींद आती है। केले में पाए जाने वाले तत्व से मांस-पेशि‍यों तनावमुक्त रहती हैं। केला में मौजूद मैग्न‍िशि‍यम और पोटैशि‍यम (potassium) से अच्छी नींद को बढ़ावा मिलता है। केले में विटामिन बी6 भी अच्छी मात्रा में होता है जो सोने से जुड़े हार्मोन्स के एक्टिव करता है।


दूध-
अच्छी नींद पाने के लिए रात को बिस्तर पर जाने से पहले एक गिलास गर्म दूध जरूरी पीना चाहिए। दूध में Tryptophan और serotonin होने की वजह से रात को अच्छी नींद आती है। दूध में भरपूर कैल्शि‍यम होता है जिससे तनाव दूर होता है।

चेरी-
चेरी में अच्छी मात्रा में मेलाटोनिन (melatonin) होता है जिससे शरीर के आंतरिक चक्र को नियमित करने हेल्प होती है। एक्सपर्ट्स की मानें तो सोने से पहले एक मुट्ठी चेरी खाने से नींद अच्छी आती है। आप चेरी का जूस भी पी सकते हैं।

बादाम-
बादाम में भी मैग्न‍िशयिम (magnesium) काफी होता है। इससे नींद अच्छी आती है और मांस-पेशि‍यों में होने वाला खिंचाव और तनाव भी कम होता है। बादाम (almond) खाने से आपको चैन की नींद आएगी।

हर्बल चाय-
अगर आपको नींद की समस्या हो रही है तो आपको कैफीन और एल्कोहोल (alcohol) से परहेज करना चाहिए। लेकिन अगर आप रात में हर्बल चाय पीते हैं तो इससे आपको अच्छी नींद आएगी ।

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य सूचना उद्देश्‍य के लिए है इन्‍हें किसी चिकित्‍सक के रूप में न समझें। हम इसकी सत्‍यता की जांच का दावा नही करतें कोई भी सवाल या परेशानी हो तो विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें ।

Next Post

'ट्रैक्टर और लोग यहीं के, चाइना या अफगानिस्तान से नहीं आए'-टिकैत

Thu Jun 24 , 2021
नई दिल्ली। कृषि कानून पर किसानों का प्रदर्शन दिल्ली की सीमाओं पर 7 महीने से चल रहा है ऐसे में किसान सरकार पर सीधा हमला बोलते हुए नजर आ रहे हैं। इसी बीच किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा है कि, ‘चार लाख ट्रैक्टर (Tractors) भी यही हैं, वो 25 लाख किसान (Farmers) […]