विदेश

दुनिया के कई देशों ने शुरू की खाद्यान्न की जमाखोरी

नई दिल्‍ली। वैश्विक महामारी कोरोना (Coronavirus) संक्रमण ने पूरी दुनिया को आर्थिक संकट के साथ-साथ खाद्यान्‍न संकट में डाल दिया है यही वजह है कि दुनिया के कई देशों ने खाद्यन्न की जमाखोरी शुरू कर दी है।

हाल ही में ब्लूमबर्ग (Bloomberg) की रिपोर्ट के अनुसार काहिरा, पाकिस्तान, जॉर्डन, मिस्र, ताइवान, चीन (Cairo, Pakistan, Jordan, Egypt, Taiwan, China) समेत कई देशों ने खाद्यान्न की जमाखोरी शुरू की है। जॉर्डन ने अप्रैल से अब तक वैश्विक बाजार से 50 फीसदी अधिक गेहूं की खरीद की है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि जिस रफ्तार से दुनियाभर के देशों में खाद्यान्न की जमाखोरी की जा रही है उससे आने वाले दिनों में महंगाई कम होने की वजाय और महंगाई बड़ सकती है। यहां तक कि कई देशों ने अपने निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसका भी असर वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला पर पड़ेगा। ये कीमत बढ़ाने का काम करेंगे।

अगर नजर डाले तो खाद्य वस्तुओं की कीमतों में तेजी के चलते थोक कीमतों पर आधारित महंगाई सितंबर 2020 में बढ़कर 1.32 प्रतिशत हो गई।

गत दिवस जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक मासिक डब्ल्यूपीआई (थोक मूल्य सूचकांक) (WPI – Wholesale Price Index) पर आधारित मुद्रास्फीति की वार्षिक दर सितंबर में 1.32 प्रतिशत (अनंतिम) रही, जो पिछले साल की समान अवधि में 0.33 प्रतिशत थी। थोक कीमतों पर आधारित मुद्रास्फीति अगस्त में 0.16 प्रतिशत थी।

जबकि इससे पहले डब्ल्यूपीआई पर आधारित मुद्रास्फीति लगातार चार महीनों में नकारात्मक (अप्रैल में नकारात्मक 1.57 प्रतिशत, मई में नकारात्मक 3.37 प्रतिशत, जून में नकारात्मक 1.81 प्रतिशत और जुलाई में नकारात्मक 0.58 प्रतिशत) थी। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय (Ministry of Commerce and Industry) के आंकड़ों के अनुसार खाद्य वस्तुओं की महंगाई 8.17 प्रतिशत रही, जबकि अगस्त में यह 3.84 प्रतिशत थी। समीक्षाधीन अवधि में अनाज की कीमतों में गिरावट आई, जबकि दालें महंगी हुईं। इस दौरान सब्जियों के महंगा होने की दर 36.54 प्रतिशत के उच्च स्तर पर थी।

Share:

Next Post

कोरोना संकट : फ्रांस में फिर से लगेगा कर्फ्यू

Thu Oct 15 , 2020
पेरिस । फ्रांस के इमैनुएल मैक्रोन ने कोरोना के प्रकोप को रोकने के लिए शुक्रवार से देश में कर्फ्यू लगाये जाने की घोषणा की है। शहरों में कर्फ्यू रात नौ बजे से सुबह 6 बजे तक लागू होगा। श्री मैक्रोन ने एक टेलीविजन साक्षात्कार में कहा, “ कर्फ्यू इले-डी-फ्रांस क्षेत्र और आठ महानगरीय क्षेत्र – […]