बड़ी खबर राजनीति

राजस्थान के लोगों को Article 370 से क्या लेना? खरगे के इस बयान पर भड़के शाह

नई दिल्‍ली (New Delhi)। लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections)के लिए पहले चरण की वोटिंग (phase voting)19 अप्रैल को होने वाली है। चुनाव प्रचार (Election Campaign)का आगाज हो चुके है। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) की तरफ से प्रधानमंत्री मोदी ने खुद कमान संभाली है। वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी विपक्ष पर बरसे में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। भाजपा ने राजस्थान में संविधान के अनुच्छेद 370 को हटाने का जिक्र करने पर सत्तारूढ़ दल की आलोचना करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे पर शनिवार को निशाना साधा। अमित शाह ने कहा कि भारत के मूल विचार को न समझ पाने के लिए विपक्षी दल की “इटालियन कल्चर” जिम्मेदार है।

शाह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अन्य नेताओं ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर खरगे के भाषण की एक क्लिप साझा की, जिसमें उन्हें राजस्थान में अनुच्छेद 370 को हटाने के बारे में बात करने की वजह से सत्तारूढ़ दल पर निशाना साधते हुए सुना जा सकता है।

क्लिप में खरगे यह कहते सुने जाते हैं, ‘‘अरे भाई, यहां के लोगों से इसका क्या वास्ता है?’’ कांग्रेस प्रमुख ने अनुच्छेद 370 की जगह अनुच्छेद 371 का गलत उल्लेख भी किया।


आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले अनुच्छेद 370 को अगस्त 2019 में भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ने निरस्त कर दिया था।

अमित शाह ने कहा कि खरगे ने जो कहा उसे सुनना शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और इस पर हर राज्य तथा हर नागरिक का ठीक उसी तरह अधिकार है, जैसे जम्मू-कश्मीर के लोगों का देश के बाकी हिस्सों पर अधिकार है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि पार्टी को पता नहीं है कि राजस्थान के कई वीर सपूतों ने कश्मीर में शांति और सुरक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है।

उन्होंने कहा, “लेकिन यह केवल कांग्रेस नेताओं की गलती नहीं है। यह मुख्यत: कांग्रेस पार्टी की इतालवी संस्कृति है जो भारत के विचार को न समझने के लिए दोषी है। इस तरह के बयान हर देशभक्त नागरिक को चोट पहुंचाते हैं और देश की जनता कांग्रेस को जवाब जरूर देगी।’’ शाह ने कहा, “और कांग्रेस की जानकारी के लिए यह अनुच्छेद 371 नहीं बल्कि अनुच्छेद 370 था जिसे मोदी सरकार ने निरस्त किया था।”

गृह मंत्री ने कहा कि हालांकि कांग्रेस से यही उम्मीद की जाती है कि वह ऐसी भयानक गलतियां करेगी। उन्होंने कहा, “कांग्रेस द्वारा की गई ऐसी गलतियां हमारे देश को दशकों से परेशान कर रही हैं।”

जेपी नड्डा ने भी इस मुद्दे को उठाते हुए कांग्रेस की आलोचना की। उन्होंने कहा, “एक और दिन कांग्रेस का एक और रत्न! खरगे जी उस विशिष्ट कांग्रेसी मानसिकता को प्रदर्शित करते हैं जो चाहती थी कि जम्मू-कश्मीर शेष भारत से कटा रहे। उन्हें यह भी नहीं पता कि अनुच्छेद 370 की बात है, 371 की नहीं।’’ भाजपा प्रमुख ने कहा कि जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग बना रहेगा और अनुच्छेद 370 को हटाना राष्ट्रीय गौरव एवं भारत की एकता और अखंडता से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ऐसी भावनाओं को कभी नहीं समझेगी।

Share:

Next Post

Nepal: राष्ट्रीय मुक्ति आंदोलन के कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ झड़प, 6 घायल

Sun Apr 7 , 2024
काठमांडू (Kathmandu)। नेपाल (Nepal) की राजधानी काठमांडू (capital Kathmandu) स्थित भद्रकाली में सिंहदरबार सचिवालय (Singhdarbar Secretariat in Bhadrakali) के सामने राजेंद्र महतो (Rajendra Mahato) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय मुक्ति आंदोलन के कार्यकर्ताओं (National Liberation Movement activists) की पुलिस के साथ झड़प हो गई। पुलिस ने शनिवार को बताया कि इस विवाद में दो पुलिसकर्मियों सहित […]