मनोरंजन

Cryptocurrency में फीस लेंगे Raftaar, भविष्य की संभावनाओं पर कही ये बात

नई दिल्ली। रैपर रफ्तार (Raftaar) ऐसे पहले भारतीय कलाकार बन गए हैं जिन्होंने Cryptocurrency को फीस (Fees) के तौर पर स्वीकार करने की बात कही है. यानि रफ्तार (Raftaar) से परफॉर्म कराने के बाद उनके ऑर्गनाइजर्स या क्लाइंट उन्हें Cryptocurrency की फॉर्म में फीस पे कर सकेंगे. बता दें कि Cryptocurrency को लीगल ट्रेड बनाए जाने को लेकर अभी दुनिया भर में संदेह की स्थिति बनी हुई है.


रफ्तार (Raftaar) ने कहा, ‘मैं हमेशा से ही ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का बड़ा प्रशंसक रहा हूं. मुझे हमेशा ही ये लगा है कि पता नहीं क्यों आर्टिस्ट और मैनेजर्स इस माध्यम की क्षमता का पता नहीं लगा पाए हैं. फिर भी मैंने आखिरकार इस दिशा में छोटे कदम उठाए हैं और इस सपने को सच करने के लिए मेरे मैनेजर अंकित खन्ना (Manager Ankit Khanna) को सारा क्रेडिट जाता है.’
बात करें रफ्तार (Raftaar) की उस परफॉर्मेंस की जिसके लिए रैपर ने Cryptocurrency स्वीकार की है तो इस वर्चुअल परफॉर्मेंस को जुलाई के दूसरे हफ्ते में स्वीकार किया जाएगा. 100 लोगों की प्राइवेट गैदरिंग के लिए ये परफॉर्मेंस होगी जो कि 60 मिनट तक चलेगी. ब्लॉकचेन तकनीक को मुख्य धारा में लाने की कोशिश कर रहे रफ्तार के मैनेजर अंकित ने कहा है कि इससे बिना किसी मीडिएटर के सीधे फैंस तक पहुंचने में मदद मिलेगी.
अंकित खन्ना (Ankit Khanna) ने ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बारे में कहा कि इस तकनीक की मदद से म्यूजिक इंडस्ट्री में काफी बदलाव आएगा. अंकित ने बताया कि इसका फायदा फैंस को भी होगा. उन्होंने कहा- अब कलाकार अपने फैन्स तक बिना किसी मध्यस्थ की मदद के पहुंच पाएंगे. मैं इस काम में रफ्तार के सपोर्ट के लिए उनका शुक्रिया अदा करता हूं. बता दें कि रैपर रफ्तार (Raftaar) के कई गाने सुपरहिट रहे हैं और वह कुछ टीवी शोज में बतौर जज भी नजर आते रहे हैं.

Next Post

खंडवा उपचुनाव में कांग्रेस से अरुण यादव लगभग तय, इसी सप्ताह हो जाएगा फैसला

Sun Jun 20 , 2021
भोपाल में इसी सप्ताह प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक, तीन विधानसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा इंदौर।   खंडवा लोकसभा (Khandwa Lok Sabha) उपचुनाव (By-election) के लिए पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरूण यादव (Arun Yadav) को कांग्रेस (Congress) अपना उम्मीदवार घोषित कर सकती है। इसी सप्ताह प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक भोपाल में होना तय है, जिसमें […]