खेल

Test Captaincy: अब कौन लेगा Virat Kohli की जगह? गावस्कर और युवराज की पहली पसंद हैं ऋषभ पंत

नई दिल्ली। विराट कोहली (Virat Kohli) ने शनिवार (15 जनवरी) को भारतीय टेस्ट टीम की कप्तानी से इस्तीफा (Resigns from captaincy of Indian Test team) दे दिया है. ऐसे में अब यह बहस शुरू हो गई है कि टीम का अगला कप्तान कौन (who is the next captain of the team) होगा? कई दिग्गजों और लीजेंड्स ने इस पर अपनी राय दी है, जिनमें एक पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Former Captain Sunil Gavaskar) भी हैं. इन भारतीय लीजेंड्स ने कुछ हटकर अपनी राय दी है।

सुनील गावस्कर ने कहा कि विराट कोहली की जगह वे विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को भारतीय टेस्ट टीम का कप्तान बनते देखना चाहते हैं। गावस्कर की पहली पसंद भी पंत ही हैं। इसकी वजह भी उन्होंने बताई और कहा कि यही सही दावेदार भी है. वहीं, युवराज सिंह ने भी ट्विट करते हुए कहा कि बिल्कुल, स्टंप्स के पीछे से खेल को काफी अच्छे से समझा जा सकता है. मतलब है कि युवी भी पंत को कप्तान बनाए जाने का समर्थन करते हैं।

मुंबई टीम का कप्तान बनने के बाद रोहित में बदलाव आया
एक सवाल के जवाब में गावस्कर ने कहा कि कौन सा सही खिलाड़ी है, जो भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाएगा, इस बात पर सेलेक्शन कमेटी के बीच काफी बहस होने वाली है. इसमें सबसे पहली बात तो यह है यह कोई एक ही खिलाड़ी होना चाहिए, जो तीनों फॉर्मेट में टीम को आगे ले जाए. एक बार यह हो गया, तो बाकी सब काम आसान ही हो जाएंगे।

गावस्कर ने कहा कि यदि आप मुझसे पूछेंगे, तो मैं कब से यही कह रहा हूं कि मैं ऋषभ पंत को ही टीम इंडिया का अगला कप्तान देखना चाहता हूं. सिर्फ एक वजह से, ठीक उसी तरह जैसे आईपीएल में रिकी पोंटिंग के बाद मुंबई इंडियंस की कप्तानी रोहित शर्मा को सौंपी गई थी. तब से उनकी बल्लेबाजी में भी बदलाव आया। अचानक से कप्तानी का दबाव आने के बाद बहुत खूबसूरत बदलाव आया. उनके 30, 40 और 50 रन शतक में और फिर 150 और 200 (डबल सेंचुरी) में बदलने लगे।

पंत कप्तान बने, तो उनमें भी बदलाव दिखेगा
गावस्कर ने कहा कि मेरा मानना है कि इसी तरह से ऋषभ पंत को भी कप्तानी की जिम्मेदारी सौंपनी चाहिए, जिसकी वजह से उन्हें शानदार बड़ी पारियों बनाने में मदद मिले. जैसी की शतकीय पारी उन्होंने न्यूलैंड्स (केपटाउन टेस्ट की दूसरी पारी) में खेली।

पंत में भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की काबिलियत
युवा खिलाड़ी को कप्तान बनाना सही रहेगा? इस सवाल पर सुनील गावस्कर ने कहा कि हां, मैं यह बात कह रहा हूं. टाइगर पटौदी (नवाब पटौदी) भी 21 साल की उम्र में ही कप्तान बने थे, जब नरी कॉन्ट्रेक्टर चोटिल हो गए थे. आप देखिए, इसके बाद पटौदी ने क्या किया. उन्होंने कप्तानी उसी तरह संभाली, जिस तरह पानी पर बदख तैरती है. मेरा मानना है कि हमने आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स की शानदार कप्तानी करते हुए ऋषभ पंत को देखा है. मुझे विश्वास है कि उनमें भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने की शानदार क्षमता है।

Share:

Next Post

ग्राहक दें ध्‍यान, बैंक ऑफ बड़ौदा चैक के लिए करेंगा नए नियम, जानिए

Sun Jan 16 , 2022
नई दिल्‍ली। देश का तीसरा सबसे बड़ा बैंक यानि बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) 1 फरवरी 2022 से एक नया नियम लागू करने जा रहा है। अगर आप बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक हैं तो ये खबर आपके काम की हो सकती है, क्‍योंकि यह नियम चेक क्लीरेंस (check clearance) को लेकर है। इसे […]