जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

चुकंदर का जूस पीने के गजब के फायदें, कई बीमारियों से रखता है दूर

अधिकतर लोग चुकंदर सलाद के रूप में बहुत चाव से खाते हैं. वैसे इसे महीन काटकर और हल्का सा पकाकर भी खाया जा सकता है. मगर क्या आपको पता है कि इसका अचार भी डाला जाता है. दरअसल, चुकंदर आयरन, विटामिन (Vitamin)और मिनरल्स (खनिज) का बहुत ही अच्छा स्रोत माना जाता है, इसलिए इसका औषधीय (Medicinal) उपयोग अधिक होता है.
 
एक अध्ययन के मुताबिक, चुकंदर का जूस बुजुर्गों के लिए बहुत फायदेमंद होता है. गर्मियों में चुकंदर का सेवन बहुत से फायदे पहुंचता है, क्योंकि इसकी तासीर ठंडी होती है. आइए इसके फायदों के बारे में बताते हैं.



ब्लड प्रेशर को करे नियंत्रित 

हाई ब्लड प्रेशर (High blood pressure) से पीड़ित लोगों के लिए चुकंदर (sugar beets) का जूस बहुत फायदेमंद होता है. एक रिसर्च में बताया गया है कि ब्लड प्रेशर वाले लोगों में रक्तचाप (blood pressure) को कम करने के लिए रोजाना एक गिलास चुकंदर का जूस पीना चाहिए.  

दिल के लिए फायदेमंद है चुकंदर 
कई अध्ययन और विशेषज्ञ बताते हैं कि रोजाना नियमित रूप से चुकंदर का जूस पीने से दिल से जुड़े रोगों का खतरा कम होता है.

डायबिटीज के लिए फायदेमंद है चुकंदर
चुकंदर का सेवन डायबिटीज (Diabetes) के मरीजों को जरूर करना चाहिए. एक रिपोर्ट के मुताबिक, चुकंदर में एक एंटी-ऑक्सीडेंट होता है, जिसे अल्फा-लिपोइक एसिड (Alpha-lipoic acid) कहा जाता है. यह कंपाउंड (यौगिक) ग्लूकोज के स्तर को कम करने में सहायता करता है. बता दें कि खून में शुगर की मात्रा बढ़ जाने से डायबिटीज की बीमारी झेलनी पड़ती है. 

कब्ज में है फायदेमंद 
विशेषज्ञों की मानें, तो पाचन स्वास्थ्य  (digestive Health) के लिए चुकंदर का सेवन बहुत फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा भरपूर होती है. यह पेट से संबंधित बीमारियों, जैसे कब्ज आदि के लिए फायदेमंद है. जो लोग कब्ज की समस्या से जूझ रहे हैं, उन्हें रोजाना एक गिलास चुकंदर का जूस (Beet juice)पीना चाहिए.

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें। कोई भी बीमारी या परेशानी हो तो सबसे पहले डॉक्‍टर की सलाह लें ।

Next Post

बंगाल : पांचवें चरण के चुनाव को लेकर EC सर्तक, सेंट्रल फोर्स के जवानों की बढ़ाई संख्‍या

Tue Apr 13 , 2021
कोलकाता । पश्चिम बंगाल (West Bengal) में चौथे चरण में सेंट्रल फोर्स और आपराधिक तत्वों के टकराव के बाद अब सुरक्षा व्यवस्था (Security system) और भी दुरुस्त की गई है। मतदान (vote) के दिन और अधिक जवानों की तैनाती की जायेगी। मंगलवार को चुनाव आयोग (Election commission) की ओर से बताया गया कि पांचवें चरण […]