विदेश

Australia के जंगली भेड़ की दुनियाभर में चर्चा, बन गई थी गोला, जानिए क्या है पूरा मामला

केनबरा। ऑस्‍ट्रेलिया (Australia) में मिली एक जंगली भेड़ दुनियाभर में चर्चा का विषय बन गई है। दरअसल, बराक नामक यह भेड़ ऑस्‍ट्रेलिया के जंगलों (Wild Sheep) में इधर-उधर भटक रही थी और जब लोगों ने उसे देखा तो वह ऊन के गोले की तरह से लग रही थी। इस भेड़ को पकड़कर जब उसके रोएं को काटा गया तो करीब 35 किलोग्राम (35 Kg) ऊन निकला। माना जा रहा है कि यह भेड़ पिछले 5 साल से ऐसे ही भटक रही थी जिससे उसके शरीर पर इतने सारे रोएं जमा हो गए।

मेलबर्न के पशु बचाव सेंचुरी का कहना है कि यह भेड़ विक्‍टोरिया (Victoria) राज्‍य के जंगलों में भटक रही थी। उसके रोएं इतने ज्‍यादा थे और कीचड़ की वजह से कड़े हो गए थे कि भेड़ को काफी परेशानी हो रही थी। इस भेड़ को बचाव सेंचुरी ले जाना पड़ा। मिशन फॉर्म सेंचुरी के संस्‍थापक पाम अहेर्न ने कहा, ‘मुझे विश्‍वास नहीं हो रहा था कि पूरे ऊन के नीचे एक जिंदा भेड़ है।’

अहेर्न का अनुमान है कि करीब 5 साल से लगातार भेड़ का ऊन बढ़ रहा था और उसे काटा नहीं गया था। बताया जा रहा है कि भेड़ के शरीर पर इतना ज्‍यादा ऊन (Wool) हो गया था कि वह ठीक से चल भी नहीं पा रही थी। उन्‍होंने कहा कि अगर बराक के ऊन को नहीं काटा जाता तो गर्मियों (Summer) में उसकी मौत हो सकती थी। इससे पहले साल 2015 में ऑस्‍ट्रेलिया में एक और भेड़ मिली थी जिसमे से 41 किलो ऊन‍ निकला था।

बराक के वीडियो को अब टिकटॉक (Tik-Tok) पर लाखों की तादाद में लोग देख रहे हैं। वहीं ऊन को निकाले जाने से भेड़ को एक नया जीवन मिल गया है। बताया जा रहा है कि उसके ऊन से बड़ी संख्‍या में लकड़ी और कीड़े मिले हैं। बराक के वीडियो और तस्‍वीरों पर बड़ी संख्‍या में लोग कॉमेंट कर रहे हैं और कह रहे हैं कि यह दुखद है कि पशु बोल नहीं सकते हैं।

Next Post

अफ्रीका में टिड्ड‍ियों ने मचाया भयानक आतंक

Fri Feb 26 , 2021
डोडोमा। अफ्रीका से लेकर भारत तक कहर मचाने वाले टिड्डी दल एक बार फिर से सक्रिय हो गए हैं। अफ्रीकी देश तंजानिया के उत्‍तरी किलिमंजारो इलाके में टिड्ड‍ियों ने भीषण हमला किया है। टिड्डी हमले से किसानों में दहशत का माहौल है। अब उन्‍हें फसल की चिंता खाए जा रही है। वहीं अफ्रीका में टिड्ड‍ियों […]