उत्तर प्रदेश देश

बनारस: टैटू गुदवाने के चक्कर में 10 लड़के और 2 लड़कियां एचआईवी संक्रमित

बनारस: उत्तर प्रदेश के बनारस (Banaras of Uttar Pradesh) में टैटू बनवाने के बाद 12 लोग HIV पॉजिटिव (HIV positive) पाए गए हैं. दो महीने में अस्पताल में हुई जांच में 10 लड़के और दो लड़कियां एचआईवी संक्रमित (HIV infected) पाई गई हैं. टैटू बनवाने से बड़ी संख्या में HIV संक्रमण की पुष्टि से हड़कंप मच गया है. संक्रमित पाए गए सभी मरीजों की जांच पिछले दो महीनों में पंडित दीन दयाल जिला अस्पताल (Pandit Deen Dayal District Hospital) में कराई गई थी. अब 12 लोग HIV संक्रमित पाए गए हैं. अस्पताल की डॉक्टर के मुताबिक सभी में संक्रमण की वजह टैटू बनवाने के लिए संक्रमित निडल (infected needle) का इस्तेमाल करना है. यह जानकारी एंटी रेट्रो वायरल ट्रीटमेंट सेंटर की डॉक्टर की तरफ से दी गई है.

डॉक्टर के मुताबिक संक्रमित पाए गए सभी लोगों ने हाल ही में टैटू बनवाए थे. जिसके बाद इस सभी लोगों को लगातार बुखार आने के साथ ही कमजोरी हो रही थी. जब सभी ने जांच करवाई तो उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव मिली. जांच में ये भी पता चला है कि इन सभी संक्रमित लोगों ने किसी फेरीवाले या फिर मेले में टैटू गुदवाया था. डॉक्टर का कहना है कि निडल संक्रमित होने की वजह से सभी HIV संक्रमित हुए हैं. टैटू बनवाने के बाद ये सभी लोग बुखार और कमजोरी से जूझने लगे. दवा लेने के बाद भी इन लोगों को फायदा नहीं हो रहा था. धीरे-धीरे उनका वजन भी कम हो रहा था. जब उनकी तबीयत ठीक नहीं हुई तब जाकर उनका HIV टेस्ट करवाया गया, जिसके बाद सभी में संक्रमण की पुष्टि हुई. 12 लोगों के संक्रमित मिलने से हड़कंप मचा हुआ है. इसके पीछे का कारण संक्रमित सुई का इस्तेमाल करना बताया जा रहा है.

Share:

Next Post

Azadi Ka Amrit Mahotsav : इस गुमनाम नायक ने दिया था भारत को तिरंगा, जानिए उनके योगदान की पूरी कहानी

Fri Aug 5 , 2022
नई दिल्‍ली । भारत (India) इस साल आजादी का अमृत महोत्सव और हर घर तिरंगा अभियान मना रहा है। इस अभियान के जरिए भारत के लगभग 150 करोड़ लोगों को राष्ट्रीय ध्वज (National flag) की महिमा और आजादी के आन्दोलन की याद दिलाई जा रही है तो लाजिमी है कि हम उस महान सख्शियत को […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.