भोपाल मध्‍यप्रदेश

शौर्य स्मारक में भारतमाता की भव्य मूर्ति का संकल्प हुआ पूरा: सीएम शिवराज

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर शनिवार को भोपाल के शौर्य स्मारक में भारतमाता की कांस्य प्रतिमा का अनावरण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भारत माता हमे शक्ति दें कि मध्यप्रदेश वैभवशाली, गौरवशाली और संपन्न देश के निर्माण में अपना सशक्त योगदान दे सके। उन्होंने कहा कि देश पर सर्वस्व न्यौछावर करने वाले वीर सपूत सैनिकों की स्मृति में निर्मित शौर्य स्मारक में भारत माता की दिव्य और भव्य प्रतिमा स्थापित करने का मेरा संकल्प आज साकार हुआ।
 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि शौर्य स्मारक पर वीरों को श्रद्धा सुमन अर्पित करने आये सरसंघ चालक मोहन भागवत सहित अनेक लोगों के मन में अक्सर यह भाव आता था कि यहाँ भारतमाता की मूर्ति होनी चाहिए। यह सपना आज साकार हुआ है। शौर्य स्मारक आने वाला हर व्यक्ति वीर सपूतों को श्रद्धांजलि देकर भारतमाता को प्रणाम कर देश भक्ति के भाव से भर जायेगा।
 
इस अवसर पर संस्कृति, पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर ने भी शौर्य स्मारक पर वीर सपूतों को पुष्पचक्र अर्पित करने के बाद भारतमाता को पुष्पांजलि अर्पित की। इस मौके पर भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर, पूर्व महापौर आलोक शर्मा, सीएम की धर्मपत्नी साधना सिंह और प्रमुख सचिव संस्कृति शिवशेखर शुक्ला भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर भारतमाता की मूर्ति बनाने वाले मूर्तिकार राजकुमार पण्डित का शाल श्रीफल से सम्मान किया।
 
अशोक चक्र राष्ट्रगान, राष्ट्रगीत भी उकेरा गया है पेडस्टल पर
 
उल्लेखनीय है कि भोपाल में 13 एकड़ क्षेत्र में निर्मित शौर्य स्मारक का लोकार्पण प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 14 अक्टूबर 2016 को किया था। स्मारक की प्रथम वर्षगांठ पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां भारतमाता की प्रतिमा स्थापना का संकल्प लिया था। प्रतिमा स्थापना के लिये विशेषज्ञों, वास्तुविदों, शिल्पकारों, चित्रकारों, आकल्पनकारों और संस्थानों आदि से प्रस्ताव आमंत्रित करने के बाद आर्शीवचन की मुद्रा में राष्ट्रध्वज सहित कमल पर भारतमाता की लगभग 25 फीट (पेडस्टल सहित 37 फीट) कांस्य प्रतिमा स्थापित की गई है। प्रतिमा के पेडस्टल पर अशोक चक्र के साथ राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत भी उकेरा गया है। वहीं स्मारक में भारतीय सेना, वायुसेना और नौसेना से संबंधित संक्षिप्त ऐतिहासिक जानकारी, चित्र, अस्त्र-सशस्त्रों के छायाचित्र, टेबलटॉप मॉडल स्केल मॉडल शौर्यपदक विवरण, शौर्य से संबंधित प्रकाशन, लघु फिल्म प्रदर्शन आदि के माध्यम से जनसामान्य को भारतीय सेना की शौर्यगाथाओं से परिचित कराया जाता है। अब तक 26 लाख 50 हजार से अधिक लोग यहाँ आ चुके हैं।
 
शौर्य स्तम्भ पर शहीदों को नमन
 
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारतमाता की मूर्ति के अनावरण के पूर्व शौर्य स्तम्भ पर पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों को नमन किया। इस मौके पर संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर सहित जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।

Share:

Next Post

स्वतंत्रता दिवस पर भगवान महाकाल भी तिरंगे के रंग में रंगे

Sat Aug 15 , 2020
उज्जैन। देश के साथ-साथ मध्यप्रदेश में भी कोरोना संकट के बीच शनिवार को 74वां स्वतंत्रता दिवस सादगीपूर्ण मनाया जा रहा है। उज्जैन स्थित विश्व प्रसिद्ध महाकाल मंदिर में भी स्वतंत्रता दिवस पर्व की धूम रही। भगवान महाकाल की पूरी तरह तिरंगे के रंग में रंगे नजर आए। अलसुबह भस्मआरती में भगवान महाकाल का तिरंगे स्वरूप […]