भोपाल

मप्र की जेलों में गूंजेगा गायत्री मंत्र

  • शुरुआत केंद्रीय जेल भोपाल से, गायत्री परिवार ने मंत्र बॉक्स स्थापित किए

भोपाल। अखिल विश्व गायत्री परिवार शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वाधान एवं मार्गदर्शन में गायत्री परिवार शाखा बुधनी द्वारा विभिन्न केंद्रीय एवं उपजेलों में मंत्र बॉक्स स्थापित किए जा रहे हैं। इसी क्रम में केंद्रीय जेल भोपाल में गायत्री मंत्र बॉक्स स्थापना के साथ शुरुआत की गई। इसके साथ ही कैदियों को गायत्री मंत्र लेखन एवं साहित्य जेल अधीक्षक के माध्यम भेंट किए गए। गायत्री परिवार के परिजनों ने बताया कि आज समस्त संसार में वैचारिक प्रदूषण है, जिसके कारण आज लोगों की बुद्धि दुर्बुद्धि में परिवर्तित हो गई है। यही कारण है कि लोग आपराधिक प्रवृत्तियों को अपनाते हैं और अपराधी बनते हैं। दुर्बुद्धि को सद्बुद्धि में परिवर्तित करने का सरल सुगम मार्ग है गायत्री मंत्र।

क्योंकि गायत्री मंत्र वेद मंत्र और सद्बुद्धि का मंत्र है जिसके जाप और गुंजन से सात्विक आध्यात्मिक वातावरण निर्मित होता है।
जेलों में गायत्री मंत्र की गुंजन से कैदियों की बुद्धि, विचार एवं भावनाओं में परिवर्तन होगा जिससे वे सत्प्रवृत्तियों को अपनाकर अपना आगे का जीवन सुखी, मंगलमय बनाएंगे। गायत्री परिवार ने समाजहित में रचनात्मक कार्य करते हुए सर्वे भवंतु सुखिन: के उद्देश्य से जेलों में गायत्री मंत्र बॉक्स स्थापित किए। भोपाल में गायत्री शक्ति पीठ परिवार ने केंद्रीय जेल के अधीक्षक दिनेश नारगावे को गायत्री मंत्रों की पुस्तिकाएं दीं। अधीक्षक के साथ ही कैदियों के लिए एक हजार गायत्री मंत्र लेखन की पुस्तिकाएं दी हैं। इससे जेल में कैदी गायत्री मंत्र का जाप कर सकेंगे।

Share:

Next Post

इंदौर के बाद अब अन्य 15 निकायों के वार्डों के आरक्षण निरस्त करने को लेकर लगेगी याचिका

Mon Jan 17 , 2022
कमलनाथ ने दिए निर्देश, हर जिले में स्थानीय कांग्रेसी लगाएंगे याचिका इंदौर। इंदौर (Indore) के कुछ वार्डों (Wards) में रोटेशन प्रक्रिया (Rotation Process) का पालन नहीं करने को लेकर लगाई गई याचिका में कोर्ट (court) ने आरक्षण निरस्त (reservation canceled) कर दिया है। इसके बाद अब याचिकाकर्ता द्वारा 15 अन्य निकायों के वार्डों के आरक्षण […]