जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

फैटी लिवर की समस्‍या से निजात पाना चाहतें हैं तो इन 2 जूस का सेवन होगा फायदेमंद

भागदौड़ भरी जिंदगी और गलत खानपान के कारण आज के समय में लोगों को स्वास्थ्य संबंधी (Health related) कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। ऐसी ही एक बीमारी है लिवर (Liver) का फैटी हो जाना है। शरीर में लिवर दूसरा सबसे बड़ा अंग होता है। लिवर खून को फिल्टर करने के साथ ही एनर्जी स्टोर भी करता है। साथ ही यह खाने को पचाने का भी काम करता है। यूं तो लिवर के पास हमेशा ही फैट जमा रहता है, लेकिन जब इसके सेल में बहुत अधिक फैट जमा तो यह फैटी होना शुरू हो जाता है।

इस स्थिति में लिवर में सूजन आने लगती है और वह सिकुड़ना शुरू हो जाते हैं। लिवर के खराब होने पर हेपेटाइटिस (Hepatitis) , लिवर सिरोसिस, एल्कोहॉलिक लिवर डिसीज (Alcoholic liver disease) और कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी हो सकती है। हालांकि, घरेलू उपायों के जरिए फैटी लिवर की इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।


फैटी लिवर की समस्या से छुटकारा पाने के लिए लौकी का जूस (Gourd juice) काफी फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए लौकी, हल्दी, धनिया, नींबू, गिलोय और काला नमक जैसी चीजों की जरूरत होती है। हालांकि, इस दौरान 7 दिनों तक जंक फूड (junk food) का पूरी तरह से परहेज करना होगा। इसके साथ ही सलाद का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना होगा।

लौकी का जूस: 
इस जूस को तैयार करने के लिए सबसे पहले लौकी (Gourd) को छील लें, फिर उसमें धनिया मिला लें। लौकी और धनिये को ग्राइंड कर लें। ग्राइंड करने के बाद इस जूस में एक चम्मच हल्दी, एक चम्मच काला नमक (Black Salt), 1 नींबू और करीब 30 ml गिलोय का जूसा मिला लें। इस ड्रिंक का नियमित तौर पर सेवन करें। यह ड्रिंक आपके लिवर को डिटॉक्स कर सारे विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करती है। साथ ही फैटी लिवर (Fatty liver) की समस्या को भी खत्म करने में मदद करती है।

आंवले और गाजर का जूस:
 फैटी लिवर (Fatty liver) की समस्या से छुटकारा पाने के लिए गाजर (carrot) , आंवला और सेंधा नमक मिलाकर जूस का सेवन करना चाहिए। इस जूस को पीने से लिवर से सूजन कम होने लगती है।

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें । कोई भी बीमारी या परेशानी हो तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें । 

Share:

Next Post

यूरिक एसिड की समस्‍या से हैं परेंशान, तो इन 3 चीजों से करें कंट्रोल

Sat Apr 10 , 2021
हाइपरयूरिसीमिया (Hyperuricemia) एक मेडिकल स्थिति है जिसमें शरीर में यूरिक एसिड का स्तर बढ़ जाता है। यूरिक एसिड (uric acid) का उच्च स्तर कई स्वास्थ्य परेशानियों को बढ़ाता है। इसके कारण गाउट की समस्या भी हो सकती है। गाउट एक ऐसी स्थिति है जिसके कारण जोड़ों में दर्द और सूजन की समस्या होती है। बहुत […]