देश मनोरंजन

कंगना और जावेद अख्तर भिड़े, जानिए क्या रही वजह

  • प्रतीश नंदी और स्वरा ने दिया जावेद अख्तर का साथ

मुंबई। देश के महान क्रांतिकारी शहीद भगत सिंह की 113वीं जयंती पर देशवासियों ने उन्हें नमन किया। इनमें गीतकार जावेद अख्तर और कंगना रनौत भी शामिल रहे, लेकिन शहीद भगत सिंह को लेकर इन दोनों बॉलीवुड सेलेब्स में सोशल मीडिया पर बहस छिड़ गई। ये बहस जावेद अख्तर द्वारा भगत सिंह को मार्क्सवादी बताने को लेकर शुरू हुई। उन्होंने ट्वीट में लिखा कि भगत सिंह मार्क्सवादी थे और उन्होंने एक ‘मैं नास्तिक क्यों हूं’ नाम से एक लेख भी लिखा था। कंगना रनौत ने इस पर प्रतिक्रिया दी।

जावेद अख्तर ने ट्वीट कर लिखा,”कुछ लोग न केवल इस तथ्य का सामना करने से इनकार करते हैं, बल्कि इसे दूसरों से भी छुपाना चाहते हैं कि शहीद भगत सिंह एक मार्क्सवादी थे और उन्होंने एक लेख लिखा था कि मैं नास्तिक क्यों हूं। कोई भी अनुमान लगा सकता है कि ऐसे लोग कौन हैं। मुझे आश्चर्य है कि अगर आज वह होते तो वे उन्हें क्या कहते।”

कंगना ने दिया ये जवाब

जावेद अख्तर के इस ट्वीट पर कंगना ने तीखी प्रतिक्रिया दी और लिखा,”मुझे यह भी आश्चर्य है कि अगर भगत सिंह जिंदा होते तो क्या वह एक लोकतांत्रिक प्रक्रिया से अपने ही लोगों की चुनी गई सरकार के खिलाफ बगावत करने देते या वह उनका समर्थन करते? क्या उन्होंने भारत माता को धर्म के आधार पर टुकड़ों में बंटते देखा था? क्या वह अब भी नास्तिक मानेंगे या वह अपना बसंती चोला पहनेंगे?”

हालांकि, जावेद अख्तर को कई लोगों का साथ मिला है। उनके समर्थन में एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने लिखा,”यह दुखद सच है।” फिल्ममेकर प्रतीश नंदी ने भी जावेद अख्तर का साथ दिया। उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया में लिखा,”अर्बन नक्सल। आज यही शब्द भगत सिंह के लिए इस्तेमाल किए जाते।” इनके अलावा कई लोगों ने कंगना रनौत का भी साथ दिया है।

Next Post

चीन से लेकर रूस तक कई देश हैं कोरोना वैक्सीन के करीब

Tue Sep 29 , 2020
नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी से दुनियाभर में 10 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी हैं और 3 करोड़ से अधिक लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। ऐसे में सभी देशों को इससे निपटने के लिये वैक्सीन की जरूरत है। कई वैक्सीन पर काम चल रहा है और वैक्सीन तैयार होने […]