बड़ी खबर

मोदी सरकार की किसानों को बड़ी सौगात, 14 फसलों का बढ़ाया MSP

नई दिल्ली: मोदी सरकार 3.0 (Modi Government 3.0)  की बुधवार को दूसरी कैबिनेट बैठक हुई. इसमें 5 बड़े फैसले लिए गए हैं. किसानों को मोदी सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है. केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव (Union Minister Ashwini Vaishnav) ने बताया कि खरीफ की फसलों के लिए एमएसपी (Minimum Support Price) बढ़ाने की मंजूरी दी गई है. इसमें 14 फसलों को शामिल किया गया है. धान का नया एमएसपी 2300 रुपये होगा.

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अश्विनी वैष्णव ने बताया कि आज कैबिनेट में किसान कल्याण के लिए बहुत महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है. खरीफ की 14 फसलों पर कैबिनेट ने एमएसपी बढ़ाया है. धान का नया एमएसपी 2,300 रुपये तय किया गया है, जो पिछले एमएसपी से 117 रुपये ज्यादा है. कपास का नया एमएसपी 7,121 होगा. इसकी एक दूसरी किस्म के लिए नया एमएसपी 7,521 रुपये होगा, जो पहले से 501 रुपये ज्यादा है.


अश्विनी वैष्णव ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी हमेशा किसानों को प्राथमिकता देते हैं. इस सरकार ने अपने नये कार्यकाल में किसानों के हित में फैसला लिया है. खरीफ सीजन के लिए सरकार ने नया एमएसपी तय किया है. 2018 में भारत सरकार ने अपने बजट में कहा था कि एमएसपी लागत से कम से कम डेढ़ गुना होनी चाहिए. सीएसीपी के जरिए लागत का पता लगाया जाता है.

जानिए किस फसल का एमएसपी कितना हुआ

फसल एमएसपी लागत लागत से अधिक मार्जिन एमएसपी 2023-24 बढ़ा एमएसपी
धान 2300 1533 50 2183 117
ज्वार 3371 2247 50 3180 191
बाजरा 2625 1485 77 2500 125
रागी 4290 2860 50 3846 444
मक्का 2225 1447 54 2090 135
तूर/अरहर 7550 4761 59 7000 550
मूंग 8682 5788 50 8558 124
उड़द 7400 4883 52 6950 450
मूंगफली 6783 4522 50 6377 406
सूरजमुखी 7280 4853 50 6760 520
सोयाबीन 4892 3261 50 4600 292
तिल 9267 6178 50 8635 632
Share:

Next Post

अवैध कॉलोनियों पर मोहन सरकार का शिकंजा, एक सप्ताह तक किया जाएगा चिन्हित, उज्जैन से शुरुआत

Wed Jun 19 , 2024
उज्जैन: मध्य प्रदेश में अवैध कॉलोनियों पर शिकंजा (Crackdown on illegal colonies) कसने के लिए सरकार ने बड़ी मुहिम शुरू कर दी है. इसकी शुरुआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉक्टर मोहन यादव (Chief Minister Dr Mohan Yadav) के शहर उज्जैन से हुई है. उज्जैन कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने प्रशासनिक अधिकारियों को अवैध कॉलोनी की […]