जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

डायबिटीज मरीजों को भारी पड़ सकती है लापरवाही, डाइट में शामिल करें ये चीजें

डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी बीमारी है जो शरीर में पर्याप्त इंसुलिन ना बन पाने या शरीर में इंसुलिन का प्रभावी ढंग से उपयोग नहीं कर पाने की वजह से होती है। इंसुलिन खून (insulin blood) में ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है। इसके बिना ब्लड शुगर (blood sugar) का स्तर बहुत अधिक हो जाता है। डाइट के जरिए ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है लेकिन अगर खानपान पर ध्यान ना दिया गया तो ये ब्लड शुगर को बढ़ा भी सकता है। आइए जानते हैं कौन सी हैं वो चीजें जो डायबिटीज के मरीज को जरूर खानी (Superfoods for Type 2 Diabetes) चाहिए।

बीन्स (Beans)-
बीन्स में राजमा, लोबिया और फलियां (Cowpeas and Legumes) आती हैं। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार बीन्स में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। इसके अलावा इनमें आयरन और फाइबर भी खूब होता है। फाइबर की मात्रा ज्यादा होने की वजह से ये टाइप 2 डायबिटीज (type 2 diabetes) का खतरा कम करती हैं। बीन्स ब्लड ग्लुकोज का स्तर सुधारते हैं। इसके अलावा ये बढ़े ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रोल को भी कम करते हैं। इसलिए डायबिटीज के मरीजों को बीन्स जरूर खाना चाहिए।

मछली (Fish)-
एक्सपर्ट्स डायबिटीज के मरीजों को हफ्ते में कम से कम एक फिश खाने की सलाह देते हैं, खासतौर से ऑयली फिश। इनमें ओमेगा 3 ऑयल भरपूर मात्रा में होता है जो दिल को सुरक्षित रखता है। डायबिटीज के ज्यादातर मरीजों में किडनी की बीमारी पाई जाती है। फिश खाने से डायबिटीज के मरीजों में किडनी की बीमारी की संभावना कम हो जाती है।

नट्स (Nuts)-
कुछ लोग सिर्फ स्वाद के लिए नट्स खाते हैं लेकिन इसे डेली डाइट में शामिल करने से डायबिटीज के मरीजों को काफी फायदा होता है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार बादाम, काजू, हेजलनट्स, अखरोट (Walnut) और पिस्ता खाने से टाइप 2 डायबिटीज और हालई कोलेस्ट्रॉल वाले लोगों में ब्लड शुगर के स्तर को कम किया जा सकता है। नट्स हेल्दी फैट्स को बढ़ाते हैं लेकिन इन्हें बहुत ज्यादा खाने से बचना चाहिए।

शकरकंद (Sweet potatoes)-
टाइप 1 डायबिटीज वालों को कुछ मात्रा में कार्ब्स खाना चाहिए वरना इनके ब्लड शुगर का स्तर बहुत कम हो सकता है। वहीं टाइप 2 डायबिटीज वाले मरीजों को अपनी लगभग आधी कैलोरी कार्ब्स से लेनी चाहिए। आलू की तुलना में शकरकंद में ग्लाइमेक्स इंडेक्स कम होता है। शकरकंद में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जो खून में धीमी गति से ब्लड शुगर बनाता है।

ओट्स (Oats)-
ग्लाइमेक्स इंडेक्स में कम होने की वजह से ओट्स टाइ 2 डायबिटीज के मरीजों के लिए अच्छा विकल्प रहता है। इनमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो वजन को कंट्रोल करने के साथ-साथ पाचन को भी सही रखता है। ये डायबिटीज के मरीजों को दिल की बीमारियों से भी बचाता है। स्टडी के अनुसार अन्य चीजों की तुलना में ब्रेकफास्ट में ओट्स खाने से ग्लुकोज का स्तर ज्यादा कंट्रोल रहता है। इसे दूध के साथ, खिचड़ी बनाकर या फिर स्मूदी के तौर पर भी लिया जा सकता है।

ब्लूबेरीज (Blueberries)-
छोटे से दिखने वाले ब्लूबेरीज में ढेरों फायदे छिपे हैं। फलों या सब्जियों की तुलना में इनमें एंटीऑक्सीडेंट ज्यादा होता है। ब्लूबेरी में नेचुरल रूप से पाए जाने वाले फाइटोकेमिकल्स पर शरीर को कई बीमारियों से बचाते हैं। इनमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है और ये फाइबर से भरपूर होते हैं। इसलिए ये ब्लड शुगर को आसानी से कंट्रोल में रखते हैं। ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित हार्वर्ड स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ पेपर के अनुसार ब्लूबेरीज खाने से डायबिटीज की बीमारी से बचा रहा जा सकता है।

Share:

Next Post

अब देश में महंगी होने वाली है बिजली, सरकार ला रही है नया कानून

Thu Nov 25 , 2021
नई दिल्ली: देश में एक ओर जहां पेट्रोल-डीजल की कीमतें आसमान छू रही हैं, वहीं अब बिजली के दामों मे भी बढ़त हो सकती है. दरअसल, केंद्र सरकार ने देश में लागू करने के लिए नया बिजली बिल ड्राफ्ट तैयार किया है. कयास लगाए जा रहे हैं कि सरकार इस बिल को इसी महीने शुरू […]