बड़ी खबर

‘4 जून को नतीजे आएंगे और नवीन बाबू, मुख्यमंत्री से पूर्व CM बन जाएंगे’- अमित शाह

भदरक: लोकसभा चुनाव 2024 के सातवें चरण से पहले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मंगलवार (28 मई) को उड़ीसा के दौरे पर पहुंचे. उन्होंने भदरक लोकसभा सीट पर प्रचार के दौरान ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि 4 जून को नतीजे आएंगे और नवीन बाबू, मुख्यमंत्री से पूर्व मुख्यमंत्री बन जाएंगे. शाह ने कहा कि ओडिशा का नया सीएम ओडिया बोलने वाला होगा, युवा होगा, भगवान जगन्नाथ का भक्त होगा. 25 साल बाद ओडिशा को ओडिया बोलने-लिखने वाला सीएम मिलने वाला है.

जनसभा को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि हमारा ओडिशा, देश के समृद्ध प्रदेशों में से एक है, लेकिन ओडिशा के लोग गरीब के गरीब रह गए और इसमें नवीन बाबू का दोष है. उन्होंने कहा कि समग्र ओडिशा से लाखों युवा अपने बूढ़े मां-बाप को छोड़कर देशभर में मजदूरी के लिए जाते हैं. आप एक बार बीजेपी की सरकार बना दो, हम ओडिशा में ही इंडस्ट्री लगाएंगे. यहां के युवाओं को बाहर न जाना पड़े, ऐसा ओडिशा बनाएंगे.


रैली को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि नवीन बाबू ओडिशा पर एक तमिलनाडु सीएम को थोपने का काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि नवीन बाबू आपके नाम पर हम बाबू को सहन नही करेंगे. यहां के ही धरतीपुत्र को ही सीएम बनाएंगे.

गृहमंत्री अमित शाह ने बीजू जनता दल पर निशाना साधते हुए कहा कि आज मैं नवीन बाबू से पूछना चाहता हूं. भगवान जगन्नाथ के रत्न भंडार की ओरिजनल चाबियां कहां हैं? रत्न भंडार की जांच रिपार्ट आप सार्वजनिक क्यों नहीं कर रहे हैं? बीजेडी सरकार किसको बचाने का प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि आप ओडिशा में बीजेपी की सरकार बना दो, एक महीने के अंदर रत्न भंडार की जांच रिपोर्ट हम सार्वजनिक कर देंगे.

गृहमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि 6 चरणों के मतदान समाप्त हो चुके हैं, मेरे पास पांच चरणों तक की रिपोर्ट है. इन पांच चरणों के मतदान में पीएम नरेन्द्र मोदी 310 सीटें जीत चुके हैं. वहीं, छठे-सातवें में 400 पार कराना है, इसके साथ-साथ ओडिशा में भी बीजेपी सरकार बनानी है.

Share:

Next Post

सऊदी अरब में मिला 8000 साल पुराना मंदिर, जानें किस देवता की होती थी यहां पूजा

Tue May 28 , 2024
डेस्क: सऊदी अरब एक इस्लामिक देश है. हालांकि यहां 8000 साल पुराना एक मंदिर पाया गया है. जिसकी चारों तरफ चर्चा हो रही है. ये भी बताया जाता है कि इस मंदिर में कहल देवता की पूजा की जाती थी. दरअसल, सऊदी अरब की सरकार ने 2022 में ऐलान किया था कि राजधानी रियाद के […]