भोपाल न्यूज़ (Bhopal News)

देर रात नगर निगम के अधिकारी और टीकमगढ़ जा रहे परिवार के बीच बवाल

  • निगम अधिकारी ने लगाए मारपीट व धमकाने के आरोप
  • दूसरे पक्ष का आरोप ऑफिसर ने लहराई पिस्टल, धमकाया

भोपाल। नादरा बस स्टैंड पर बीती रात नगर निगम के अतिक्रमण अधिकारी कमर साकिब व टीकमगढ़ जा रहे पिता पुत्र के बीच जमकर बवाल हुआ। आरोप है कि पिता पुत्र ने अधिकारी के पास पहुंचकर यह कहते हुए गाली ग्लोच की, कि उन्होंने अपनी कार से उनका सामान दबा दिया है। अतिक्रमण अधिकारी कमर साकिब ने जब इसका विरोध किया तो उनके साथ मारपीट की गई और जान से मारने की धमकी दी। वहीं दूसरे पक्ष की माने तो अधिकारी ने उनके सामान से भरे बैग को कार से दबा दिया। विरोध करने पर पिस्टल दिखाकर धमकाया। वहीं पुलिस ने कमर साकिब की शिकायत पर मारपीट,धमाकने का प्रकरण दर्ज कर लिया है। जबकि दूसरे पक्ष ने पुलिस पर फरियाद न सुनने के आरोप लगाए हैं। हनुमानगंज पुलिस के अनुसार कमर साकिब नगर निगम के अधिक्रमण अधिकारी हैं और नारीयलखेड़ा में रहते हैं। उन्होंने पुलिस को बताय कि देर रात शहर में लगे अवैध होर्डिं्स और पोस्टर को हटाने की कार्रवाई की जाती है। बीती रात भी उन्होंने कार्रवाई के लिए कुछ पाइंट्स बताकर अपनी टीम को रवाना किया। जिसके बाद में वह नादरा बस स्टैंड पर स्थित मकबूल चाय वाले की दुकान के पास अपनी कार पार्क कर कार में बैठे किसी का इंतजार कर रहे थे। तभी दो व्यक्ति पिता और पुत्र आए। दोनों ने आरोप लगाया कि कमर साकिब ने उनके सामान से भरे बैग को कार के टायर के नीचे दबाते हुए कार को पार्क किया। जिसका कमर ने विरोध किया तो आरोपी पिता पुत्र ने उनके साथ में झूमाझटकी करते हुए मारपीट कर दी। जिसकी सूचना कमर साकिब ने थाने में कॉल कर दी। सूचना के बाद में पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी पिता पुत्र को दबोच लिया। कमर की शिकायत पर मारपीट,धमकाने की धाराओं में दोनों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान विजय ताम्रकर पिता और विशाल ताम्रकर पुत्र निवासी टीकमगढ़ के रूम में की गई है।

  • दूसरा पक्ष: वहीं विजय ताम्रकर ने आरोप लगाए हैं कि कमर साकिब ने पहले उनके सामान को कुचला, विरोध करने पर उन्हें पिस्टल दिखाकर धमकाया और पुलिस बुलाकर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। जबकि वह परिवार के साथ टीकमगढ़ जाने के लिए बस के इंतजार में खड़े थे। थाना पुलिस ने इस मामले में उनकी एक न सुनी और केस दर्ज कर हिरासत में ले लिया।

डीजीपी तक पहुंचा मामला
पूरे मामले में देर रात एक वीडियो वायरल हुआ है। जिसमें विशाल ताम्रकर इस वीडियों को शूट कर रहे हैं। वहीं कमर साकिब वीडियो शूट करने का विरोध कर रहे हैं। वीडियों बनाने की बात पर दोनों के बीच तीखी नोक झोंक हो रही है। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को शांत कराती और थाने ले जाकर कार्रवाई करती है। तमाम वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद में डीजीपी विवेक जोहरी ने पूरे मामले में संज्ञान लिया है। उन्होंने भोपाल पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को पूरे मामले की जांच के बाद उचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

इनका कहना है
मैं नादरा बस स्टैंड पर एक चाय की दुकान के बाहर कार में बैठा किसी का इंतजार कर रहा था। तभी दो व्यक्ति मेरे पास आए,उन्होंने उनका सामान दबाने का आरोप लगाते हुए पहले बदसलूकी की। बाद में उन्हें चांटा मार दिया। जिसकी शिकायत उन्होंने तत्काल क्षेत्रीय पुलिस को कॉल पर दी। जिसके बाद में पुलिस ने पिता पुत्र को हिरासत में लिया और उनकी शिकात पर प्रकरण दर्ज कर लिया। शराब पीकर वाहन चलाने के आरोप अनर्गल हैं, पुलिस ने मेरा मेडिकल परीक्षण कराने के बाद कार्रवाई की है।
कमर साकिब, अधिक्रमण अधिकारी

कमर साकिब टीम को कार्य के लिए रवाना करने के बाद में बस स्टैंड पर कार में बैठे चाय पी रहे थे। तभी दो व्यक्तियों ने सामान दबाने की बात पर उनसे विवाद किया। दूसरा पक्ष अग्रेसिव हो रहा था, जिसके बाद वीडियो शूट किया गया है। पहले भी काफी बवाल किया गया था। फिलहाल कमर साकिब की ओर से शिकायत दर्ज कराई गई है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।
राम स्नेही मिश्रा, एएसपी जोन-3

Share:

Next Post

शहर में बहुमंजिला भवनों में लगीं लिफ्ट असुरक्षित

Tue Feb 23 , 2021
लिफ्टों को भूला विभाग, क्षमता भी चस्पा नहीं भोपाल। शहर (city) में बहुमंजिला भवनों (multi-storeyed buildings) में लगीं लिफ्ट असुरक्षित हैं। विद्युत सुरक्षा विभाग (Department) लिफ्ट लगने के बाद उनकी वार्षिक जांच करना भूल गया है। अफसरों का कहना है जब किसी भवन में ठेकेदार द्वारा लिफ्ट लगाई जाती है, तभी उसका निरीक्षण किया जाता […]