बड़ी खबर व्‍यापार

वालमार्ट के साथ मिलकर 8,000 करोड़ के उत्पाद एमएसएमई से सप्लाई कराने का लक्ष्य

लखनऊ। प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, निवेश तथा निर्यात प्रोत्साहन मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने अपने सरकारी आवास से वालमार्ट वृद्धि के तहत आगरा ई-इंस्टीट्यूट का वर्चअल शुभारम्भ किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वालमार्ट वृद्धि कार्यक्रम के तहत प्रदेश के शिल्पकारों को विश्व का बड़ा बाजार उपलब्ध होगा। वालमार्ट ने पूरे देश में वृद्धि कार्यक्रम के तहत 50 हजार सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) को सप्लायर बनाना चाहते हैं, जो एक बहुत बड़ा सराहनीय कदम है।

वालमार्ट ने आगामी पांच वर्षों में 80 हजार करोड़ रुपये के टर्नओवर का लक्ष्य निर्धारित किया। राज्य सरकार वालमार्ट के साथ मिलकर आठ हजार करोड़ रुपये के उत्पाद उत्तर प्रदेश के एमएसएमई से सप्लाई कराने का लक्ष्य रखा है। इससे छोटे-बड़े कारोबारियों को बड़ा बाजार मिलेगा, वहीं रोजगार के अधिक अवसर भी सृजित होंगे।

श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वर्ष 2018 में एक जिला-एक उत्पाद (ओडीओपी) कार्यक्रम का शुभारम्भ किया था। इस कार्यक्रम के तहत स्थानीय उद्यमियों एवं शिल्पकारों को उनके उत्पादों की क्वालिटी बेहतर बनाने, आकर्षक पैकेजिंग, ब्रांडिंग, स्किल ट्रेनिंग आदि सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। इसके लिए हर जनपद में सामान्य सुविधा केन्द्र (सीएफसी) की स्थापना भी कराई जा रही है।

उन्होंने कहा कि स्थानीय कारीगरों एवं हस्तशिल्पियों को छोटे कारोबार को बड़ा व्यापार बनाने के लिए पहले से ही कई ठोस कदम उठाये गये है। ई-मार्केट प्लेटफार्म अमेजन एवं फ्लिपकार्ट के माध्यम से स्थानीय उत्पादों को वैश्विक बाजार मुहैया कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। (एजेंसी, हि.स.)

Next Post

विश्वकप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी मप्र की खुशी

Fri Feb 26 , 2021
भोपाल। मध्यप्रदेश राज्य फेंसिंग अकादमी की खिलाड़ी खुशी दाभाड़े आगामी 19 से 23 मार्च तक रूस के कजान शहर में होने वाले विश्वकप में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व करेंगी। राष्ट्रीय तलवारबाजी प्रतियोगिताओं में शानदार प्रदर्शन करने पर फेंसिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा रैंकिंग के आधार पर खुशी दाभाड़े का विश्व कप के लिए चयन हुआ […]