जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

ये संकेत बताते हैं शरीर में विटामिन डी की कमी, जानें किन चीजों के सेवन से होगी पूर्ती

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन-डी (vitamin D) बहुत ही जरूरी होता है। विटामिन डी से शरीर को काफी ऊर्जा मिलती है, जिससे शरीर सही तरीके से काम करने में सक्षम हो पाता है। विटामिन डी को सनशाइन विटामिन के तौर पर भी जानते हैं। जब हमारी त्वचा पर सूरज की किरणें (sun rays) पड़ती हैं तो शरीर में अपने आप विटामिन डी बनने लगता है। हालांकि अगर आप धूप में कम निकलते हैं तो आप कई खाद्य पदार्थों के सेवन से विटामिन-डी प्राप्त कर सकते हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि शरीर में विटामिन-डी की सही मात्रा बनाए रखना बहुत ही जरूरी होता है, इसकी कमी से कई गंभीर बीमारियों (serious diseases) का खतरा बढ़ जाता है।

शरीर में विटामिन-डी की कमी के लक्षण
1- ब्लड प्रेशर बढ़ना
2- चेहरे और हाथों पर झुर्रियां पड़ना
3- जोड़ों और हड्डियों में दर्द रहना
4- मांशपेशियों में कमजोरी महसूस होना
5- थकावट और कमजोरी रहना
6- बहुत ज्यादा नींद आना
7- तनाव और डिप्रेशन महसूस होना

शरीर में विटामिन-डी की कमी से होने वाले रोग
1- हार्ट (heart) से संबंधी बीमारियों का खतरा बढ़ना
2- हड्डी में दर्द और कमजोर होकर टूटना
3- हड्डियों के रोग ऑस्टियोमलेशिया (osteomalacia) और ऑस्टियोपोरोसिस
4- डायबिटीज होना
5- इम्यूनिटी (immunity) कमजोर होना
6- सूजन और संक्रामक संबंधी रोग
7- कैंसर का खतरा होना



शरीर में विटामिन-डी के फायदे
1- रोगप्रतिरोधक क्षमता मजबूत
2- मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र को हेल्दी रखे
3- हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाए
4- इंसुलिन (insulin) और ब्लड शुगर कंट्रोल
5- हार्ट को हेल्दी और बीमारियों से दूर रखे
6- फेफड़ों को मजबूत और कार्यक्षमता बढ़ाए
7- कैंसर का खतरा कम करना

इन चीजों से मिलेगा विटमिन-डी
1- साल्मन फिश और फैटी फिश
​2- अंडे (एग योक) की जर्दी
3- संतरे का जूस
​4- गाय का दूध-दही और डेयरी प्रोडक्ट
5- मशरूम और साबुत अनाज
6- टमाटर, मूली और पत्ता गोभी

नोट- उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव सामान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें । कोई भी सवाल या परेंशानी हो तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें ।

Share:

Next Post

महंत नृत्य गोपाल दास की तबीयत खराब, अस्पताल में भर्ती होंगे

Sun Oct 3 , 2021
लखनऊ। राम जन्मभूमि न्यास और श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के प्रमुख महंत नृत्य गोपाल दास (Mahant Nritya Gopal Das) को सीने में दर्द, अत्यधिक पेशाब की परेशानी और ऑक्सीजन के स्तर में उतार-चढ़ाव की शिकायत के बाद मेदांता अस्पताल (Medanta Hospital) में भर्ती कराने के लिए लखनऊ (Luckhnaw) लाया जा रहा है। डॉक्टरों की […]