Uttarakhand : चमोली आपदा में लापता व्यक्तियों को उत्तराखंड सरकार ने किया मृत घोषित

देहरादून । उत्तराखंड के चमोली जिले के जोशीमठ स्थित ऋषिगंगा में आई आपदा की वजह से लापता लोगों को मृत घोषित करने की इजाजत मिल गई है। उप महारजिस्ट्रार जन्म एवं मृत्यु की ओर से इस संदर्भ में जारी नोटिफिकेशन के बाद राज्य सरकार ने आदेश जारी कर दिए हैं। सरकार ने लापता लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए पंजीकरण कराने के लिए अभिहित अधिकारी और दावों व आपत्तियों के निस्तारण के लिए अपीलीय अधिकारियों को नामित कर दिया है।

स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी की ओर से जारी आदेशों के अनुसार सभी जिलाधिकारियों एवं जन्म मृत्यु पंजीकरण अधिकारियों को इस संदर्भ में प्रक्रिया शुरू करने को कहा गया है। इसके साथ ही सरकार ने लापता लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए पंजीकरण कराने के लिए अभिहित अधिकारी और दावों व आपत्तियों के निस्तारण के लिए अपीलीय अधिकारियों भी नामित कर दिए हैं। राज्य के सभी जिलों के परगना मजिस्ट्रेट या उप जिलाधिकारियों को अभिहित अधिकारी जबकि जिलाधिकारियों व अतिरिक्त जिलाधिकारियों को अपीलीय अधिकारी नामित किया गया है।

राज्य सरकार ने इस संदर्भ में केंद्र को पत्र लिखा था जिसके बाद अब केंद्र की ओर से आपदा में लापता लोगों को मृत घोषित करने के लिए नोटिफिकेशन जारी किया गया है। इसके आधार पर उनके परिजनों को आपदा राहत राशि व एनटीपीसी की ओर से मिलने वाली आर्थिक सहायता मिलने का रास्ता भी साफ हो जाएगा।

राज्य सरकार की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि चमोली आपदा में जो व्यक्ति जहां पर लापता हुआ उसे वहीं के अभिहित अधिकारी द्वारा मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। इस संदर्भ में कोई भी अपील जिलाधिकारी से की जा सकती है।

आपदा में लापता लोगों के मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए प्रक्रिया भी तय की गई है। इसके तहत लापता व्यक्ति के उत्तराधिकारी या निकट संबंधी शपथ पत्र के साथ निवास के स्थान पर गुमशुदगी दर्ज कराएंगे। तीस दिन तक दावे व आपत्तियां मांगी जाएंगी यदि कोई आपत्ति नहीं आई तो तीस दिन बाद मृत्यु प्रमाण पत्र जारी कर दिए जाएंगे।

Next Post

देश में Corona virus के दक्षिण अफ्रीका स्ट्रेन के 6 और ब्रिटेन के 187 मामले

Tue Feb 23 , 2021
नई दिल्ली । नीति आयोग के सदस्य डॉ. वी के पॉल ने मंगलवार को बताया कि देश में कोरोना वायरस के दक्षिण अफ्रीका स्ट्रेन के 6 मामले सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि देश में अब तक ब्रिटेन स्ट्रेन के 187 मामले और ब्राजील स्ट्रेन का एक मामला सामने आया […]

Know and join us

www.agniban.com

month wise news

February 2021
S M T W T F S
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28