बड़ी खबर

NET एग्जाम की अगली तारीख क्या होगी, क्यों रद्द की गई परीक्षा? शिक्षा मंत्रालय ने दिया हर जवाब

नई दिल्ली: देश में पेपर लीक का विवाद थमता नहीं दिख रहा है. एक तरफ नेट पेपर लीक तो दूसरी तरफ नीट पेपर लीक विवाद. नये-नये खुलासों से हड़कंप मचा है. लिहाजा आज केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से एक प्रेस कांफ्रेंस की गई और हरेक सवाल का जवाब देने का प्रयास किया गया.

शिक्षा मंत्रालय ने माना कि पेपर में कुछ तो गड़बड़ी हुई है, तभी UGC-NET 2024 परीक्षा को रद्द किया गया है. वहीं मंत्रालय ने ये भी कहा कि जल्द ही परीक्षा की नई तारीख की घोषणा की जाएगी. शिक्षा मंत्रालय के संयुक्त सचिव गोविंद जायसवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करके बताया कि हमारे लिए छात्रों का हित सर्वोपरि है. इसमें किसी भी तरह का कोई समझौता नहीं होगा. उन्होंने कहा कि मामले की सीबीआई जांच चल रही है, रिपोर्ट पर हम किसी भी तरह का एक्शन लेने के लिए तैयार हैं.

वहीं नीट पेपर लीक के बारे में शिक्षा मंत्रालय ने कहा कि मामले में बिहार से कई तरह के इनपुट आ रहे हैं. जब तक कोई पुख्ता इनपुट नहीं आता है तब तक किसी भी नतीजे पर पहुंचना जल्दबाजी होगा. संयुक्त सचिव ने कहा कि हम बिहार, गुजरात कनेक्शन और ग्रेस मार्क वाले सभी मुद्दों को गंभीरता से देख रहे हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में EOU जांच जारी है, ग्रेस मामले को सुलझा लिया गया है, सरकार ने रिपोर्ट मंगवाई है. कुछ गलत निकला तो एक्शन लिया जाएगा.


नेट पेपर लीक के बारे में संयुक्त सचिव ने प्रेस कांफ्रेंस में ये भी बताया कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय से मिलने वाले इनपुट के बाद ऐसा लगा कि मामले में कुछ गड़बड़ हुआ है, जिसके बाद एक्शन लेते हुए परीक्षा रद्द की गई है. अब जल्द ही परीक्षा की नई तारीख का एलान किया जाएगा. उन्होंने बताया कि गड़बड़ी का इनपुट यूजीसी को मिला था और यह इनपुट टेक्निकल नेचर का था. इस मामले की जांच चल रही है. सबूत मिलने के बाद हम एक्शन लेने को तैयार हैं.

शिक्षा विभाग ने साफ किया है कि मामले में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी. विभाग ने बताया कि मामले में किसी ने शिकायत नहीं है बल्कि विभाग ने खुद ही संज्ञान में लिया है. विभाग के अधिकारी ने बताया कि हम किसी भी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले पूरी तरह से पुख्ता होना चाहते हैं. विभाग ने कहा कि ये पेपर एनटीए पूरा करवाता है. इसमें कई तरह की एजेंसी संलग्न रहती है. जांच से ही सब निकलकर सामने आएगा कि कब, किसने किस तरह की भूमिका निभाई.

Share:

Next Post

आ गया प्री-मानसून..किसान जुटे खेत तैयार करने में..सब्जियों के पौधे निकाले, मौसम भी बदलेगा

Thu Jun 20 , 2024
सब्जियाँ महँगी ,लोकल आवक सिमटने से खेरची में दाम 50 रुपए प्रतिकिलो के करीब उज्जैन। गर्मियों के दौरान हरी सब्जियों के दाम आम आदमी की पहुंच में थे, लेकिन प्री मानसून की एक्टिविटी शुरू होते ही किसान खेत तैयार करने में जुट गए हैं। किसानों ने पुरानी सब्जियों के पौधों को निकाल दिया है, जिससे […]