विदेश

इमरान के मार्च को रोकेगी PAK आर्मी? PM शहबाज बोले- गृहयुद्ध चाहते हैं नियाजी


इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने पीटीआई अध्यक्ष इमरान खान पर फिर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि इमरान खान पाकिस्तान में गृहयुद्ध कराना चाहते हैं. शरीफ ने साथ में यह चेतावनी भी दी है कि देश पीटीआई चेयरमैन के ‘नापाक मंसूबों’ को कामयाब नहीं होने देगा. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने रविवार को पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा, ‘इमरान खान नियाजी देश में गृहयुद्ध शुरू करना चाहते हैं. लेकिन उन्हें गलतफहमी है, देश उन्हें उनके पापों के लिए कभी माफ नहीं करेगा.’

गौरतलब है कि इमरान खान 25 मई को राजधानी इस्लामाबाद में मार्च निकालने जा रहे हैं. इसको लेकर शहबाज शरीफ और उनकी सरकार काफी परेशान नजर आ रही है. यह पूछे जाने पर कि क्या पाकिस्तान सरकार देश की राजधानी में पीटीआई चेयरमैन इमरान खान के प्रस्तावित मार्च को रोकने के लिए सेना बुलाएगी? इसके जवाब में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने कहा, जरूरत पड़ने पर फैसला लिया जाएगा. आपको बता दें कि पाकिस्तान की सत्ता से बेदखल होने के बाद से ही इमरान खान लगातार देश के अलग-अलग शहरों में जलसे कर रहे हैं.

प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ के मंत्री को इमरान खान पर भरोसा नहीं
बहावलपुर में रविवार को इसी मुद्दे पर बोलते हुए, पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह ने कहा कि सरकार तय करेगी कि पीटीआई के मार्च को इस्लामाबाद में प्रवेश करने की अनुमति दी जानी चाहिए या नहीं. अगर गठबंधन की सरकार कोई एक्शन लेती है, तो हम प्रदर्शनकारियों को उनके घरों से बाहर भी नहीं निकलने देंगे. जब उन्हें बताया गया कि पीटीआई नेतृत्व ने शांतिपूर्ण मार्च निकालने का वादा किया है, राणा सनाउल्लाह ने कहा, मुझे इमरान खान पर भरोसा नहीं है. क्योंकि उनका झूठ बोलने और यू-टर्न लेने का पुराना इतिहास रहा है.

इमरान खान को जेल में रखना चाहते हैं पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री
पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री राणा सनाउल्लाह ने इमरान खान के नेतृत्व में पीटीआई की रैली को लेकर कहा, ‘पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ और उसके कार्यकर्ताओं के पिछले रिकॉर्ड को ध्यान में रखते हुए, मेरी आशंका है कि वे अराजकता पैदा करने के इरादे से इस्लामाबाद आएंगे.’ मंत्री ने कहा कि वह व्यक्तिगत रूप से इमरान खान को जेल की उसी कोठरी में 3 दिनों के लिए हिरासत में रखना चाहते हैं, जहां वह (खुद मंत्री) एक रचे गए ड्रग तस्करी के मामले में महीनों तक कैद थे. उन्होंने कहा, ‘तीन दिन सलाखों के पीछे रहे तो उनकी (इमरान खान की) राजनीति का सफाया हो जाएगा.’

Share:

Next Post

दबिश देने गई इंदौर पुलिस ने सडक़ हादसे में घायल चार लोगों की जान बचाई

Mon May 23 , 2022
इन्दौर।  चोरों (thieves) के ठीयों पर दबिश देने गई इंदौर पुलिस (indore police) ने सडक़ हादसे में घायल एक अधिकारी और उसके परिवार के तीन लोगों को अस्पताल पहुंचाकर उनकी जान बचाई। बताया जा रहा है कि घायलों ( injured) का अभी भी अस्पताल (hospital) में इलाज (treatment) जारी है और उनकी हालत नाजुक बनी […]