बड़ी खबर

‘अरविंद केजरीवाल किंगपिन, मनीष सिसोदिया मुख्य साजिशकर्ता’, जानें कोर्ट में ED ने क्या-क्या कहा?

नई दिल्ली: दिल्ली शराब नीति मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने गुरुवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार कर लिया. ईडी ने शराब नीति में मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में दो घंटे की पूछताछ के बाद केजरीवाल को गिरफ्तार किया था. जांच एजेंसी ने उन्हें शुक्रवार को राउज एवेन्यू अदालत में पेश किया. इस दौरान ईडी ने केजरीवाल की 10 दिन की रिमांड मांगी.

कोर्ट में सुनवाई के दौरान ED की ओर से पेश ASG राजू ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने इस भ्रष्टाचार का षड्यंत्र रचा. ईडी ने उसे इस मामले में किंगपिन बताया. इतना ही नहीं ASG राजू ने दावा किया कि दिल्ली के शराब नीति घोटाले मामले में मनीष सिसोदिया ने भी मुख्य भूमिका निभाई. उनकी जमानत सुप्रीम कोर्ट से खारिज हो चुकी है.

गोवा चुनाव में रिश्वत का हुआ इस्तेमाल- ED
ASG राजू ने कोर्ट में कहा, ”अरविंद केजरीवाल आप पार्टी के मुखिया हैं, नई शराब नीति अरविंद केजरीवाल, मनीष सिसोदिया और संजय सिंह द्वारा लागू की गई थी. उन्होंने दावा किया कि दो बार कैश ट्रांसफर किया गया. गिरफ्तार आरोपी बची बाबू के जरिए पहले 10 करोड़ और फिर 15 करोड़ रुपये ट्रांसफर किया गया.”ASG राजू ने बताया कि रिश्वत से मिले पैसे में 45 करोड़ का इस्तेमाल गोवा विधानसभा चुनाव में हुआ.


ED ने विजय नायर का भी किया जिक्र
ईडी ने सुनवाई के दौरान शराब नीति मामले में गिरफ्तार एक और आरोपी विजय नायर का जिक्र किया. ईडी ने कहा कि विजय नायर केजरीवाल का दाहिना हाथ है, वह केजरीवाल के लिए रिश्वत इकट्ठा करता था. पॉलिसी लागू कराना, जो न माने उसे धमकाने का काम वही करता था.

ईडी ने कोर्ट में कहा, इस पूरे अपराध की आय सिर्फ 100 करोड़ नहीं है, बल्कि कंपनियों द्वारा प्राप्त अतिरिक्त मुनाफा भी है. ASG राजू ने कहा कि हमारे पास चैट भी हैं जो इसकी पुष्टि करते है अधिकांश विक्रेताओं ने अधिकतम सीमा तक नकद भुगतान किया. ASG राजू ने कहा कि केजरीवाल का सारा काम विजय नायर ने किया. केजरीवाल को साउथ ग्रुप से रिश्वत मिली थी. ईडी ने इस मामले में अन्य आरोपी मुंगटा का बयान पढ़ते हुए कहा, केजरीवाल चाहते थे कि उनके पिता दिल्ली में शराब कारोबार का चेहरा बनें.

45 करोड़ रुपये गोवा ट्रांसफर हुए
ईडी ने कहा कि हवाला के जरिए 45 करोड़ रुपये गोवा ट्रांसफर किए गए. इसे लेकर न सिर्फ बयान बल्कि सीडीआर से भी इसकी पुष्टि होती है. हमने मनी ट्रेल की भी जांच की है. गोवा में पैसा 4 रास्तों से आता था. आरोपों की पुष्टि गोवा में आप के एक उम्मीदवार ने भी की है. इस व्यक्ति को नकद भुगतान भी किया गया. उन्हें नकदी कहां से मिली? यह इन रिश्वतों से था.

Share:

Next Post

'अरविंद केजरीवाल को CM पद से हटाया जाए', दिल्ली हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर

Fri Mar 22 , 2024
नई दिल्ली: दिल्ली हाई कोर्ट में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ जनहित याचिका दायर की गई है. इस याचिका में मांग की गई है कि केजरीवाल को दिल्ली के सीएम पद से हटाया जाए. लॉइव लॉ की रिपोर्ट के मुताबिक ये याचिका सुरजीत सिंह यादव नाम के शख्स ने दायर की है. केजरीवाल को ईडी […]